VD शर्मा का बड़ा बयान- पार्टी विरोधी काम बदार्शत नहीं, संगठन स्तर पर करेंगे कार्रवाई

शर्मा (VD Sharma) ने कहा कि अगर कोई पदाधिकारी, कार्यकर्ता पार्टी के विरोध में काम करता है तो भाजपा उसे गलत काम नहीं करने देगी। 100 में से 99 लोग अच्छा काम कर रहे हैं और अगर एक व्यक्ति गलत काम करता है तो उसे स्वीकार नहीं किया जायेगा।

vdsharmaa

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मंत्री गौरीशंकर शेजवार (Gaurishankar Shejwar), उनके बेटे मुदित शेजवार (Mudit shejwar) और पूर्व विधायक गजराज सिंह सिकरवार (Gajraj Singh Sikarwar) पर कार्रवाई के बाद बीजेपी प्रदेश वीडी शर्मा (BJP Pradesh VD Sharma) का बड़ा बयान सामने आया है। शर्मा ने साफ कहा है कि अगर 100 लोग बढ़िया काम करते है और एक गलत काम करता है तो हम उसे बर्दाश्त नहीं करेंगे। उसके ऊपर सगंठन स्तर (Organizational level) पर कार्रवाई की जायगी।

शर्मा (VD Sharma) ने कहा कि अगर कोई पदाधिकारी, कार्यकर्ता पार्टी के विरोध में काम करता है तो भाजपा उसे गलत काम नहीं करने देगी। 100 में से 99 लोग अच्छा काम कर रहे हैं और अगर एक व्यक्ति गलत काम करता है तो उसे स्वीकार नहीं किया जायेगा।वो कोई भी हो उस पर इस तरह की कार्रवाई की जायेगी। बीजेपी के पास प्लान ही प्लान है हमारा कोई बी प्लान नहीं है।

28 विधानसभा सीटें जीतेगी बीजेपी

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और सांसद विष्णुदत्त शर्मा (Vishnudutt Sharma) ने कहा कि उपचुनाव को लेकर विधानसभा के प्रभारी, सह प्रभारी, जिलाध्यक्ष एवं विस्तारकों से फीडबैक लिया गया है। सभी पदाधिकारियों से लिए गए फीडबैक (Feed Back) के आधार पर यह कहा जा सकता है कि भारतीय जनता पार्टी सभी 28 विधानसभा क्षेत्रों (28 Assembly Area) में जीत हासिल करेगी और यह पार्टी कार्यकर्ताओं के अथक परिश्रम से संभव होगा।

एग्जिट पोल में जीत रही भाजपा

म.प्र. की 28 विधानसभाओं में हुए उपचुनाव के विभिन्न एजेंसियों द्वारा किये गए एग्जिट पोल के परिणाम बताते हैं कि हमें जोरदार सफलता मिल रही है। एग्जिट पोल महज ट्रेंड बताते हैं, मुझे विश्वास है कि भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा किये गए अथक परिश्रम के बल पर परिणाम इससे भी बेहतरीन आएंगे।

 कांग्रेस ने हार स्वीकार कर ली

शर्मा ने कहा कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) प्रत्येक चुनाव से पहले ही आरोप लगाने लगते है कि ईवीएम (EVM) की चिप गायब हो सकती है। कमलनाथ (Kamal Nath) कह रहे हैं कि पुलिस और प्रशासन (Police and Administration) का दुरूपयोग हो रहा है। फिर कहते हैं मतगणना (Counting) में यह सब हो सकता है। कांग्रेस जब हारने लगती है तो हार का ठीकरा किसके फोड़ा जाए, उसकी तलाश शुरू कर देती है। कांग्रेस के लोग ईवीएम को दोष देते हैं, प्रशासन (Administration) पर आरोप लगाते हैं। इस बार भी दिग्विजय सिंह और कमलनाथ जो आरोप लगा रहे हैं, उनसे यह तय हो गया है कि कांग्रेस ने अपनी हार स्वीकार कर ली है और BJP की जीत सुनिश्चित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here