रूठे मंत्री को मिलेगा पसंद का विभाग, राजभवन पहुंची फाइल!

congress-will-change-department-of-govind-singh-

भोपाल। मध्य प्रदेश के कैबिनेट बंटवारे से कई कांग्रसी विधायक पसंद का विभाग नहीं मिलने से नाराज हैं। पार्टी अब उन्हें मनाने के लिए उनके विभाग बदलने की तैयारी में है। अंदरखाने की खबर है कि लहार विधायक डॉ. गोविंद सिंह को उनकी पसंद का विभाग नहीं मिला है। जिससे वह नाराज हो कर अपने क्षेत्र में बैठ गए हैं। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उन्हें सहकारिता के साथ ही अब सामान्य प्रशासन विभाग दिया जा सकता है। मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को विभाग बदलने के लिए फाइल को राजभवन राज्यपाल के पास भेजा है। संभावना है कि आज इसका नोटिफिकेशन जारी भी हो सकता है। 

क्यों नाराज हैं गोविंद सिंह

दरअशल, लहार से कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में शुमार डॉ. गोविंद सिंह वरिष्ठा का आधार पर विभाग के बंटवारे के पक्ष में थे। लेकिन जब विभाग बांटे गए तो उनमें इस बात का ध्यान नहीं रखा गया। गुटे में बंटी कांग्रेस को अलग अलग क्षत्रपों ने अपने खास को विभाग बांटे। लेकिन कई वरिष्ठ विधायकों को हल्के विभाग दिये गए। उनमें सिह भी शामिल हैं। उन्हें सहकारिता और संसदीय कार्य जैसे विभाग दिए गए। जबकि वह दूसरे विभाग चाहते थे। उन्होंने अपनी वरिष्ठता के हिसाब से गृह और जेल विभाग की मांग की थी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। 

सिंह ने कहा मीडिया की खबर गलत

गोविंद सिंह ने उस मीडिया रिपोर्ट को खारिज कर दिया जिसमें ये दावा किया गया था कि वह मिले विभाग से नाराज हैं। उन्होंने कहा कि डॉ. सिंह ने कहा है कि मंत्रिमंडल में विभागों का वितरण करना मुख्यमंत्री का विशेष अधिकार है। मुख्यमंत्री ने मुझे जो भी जिम्मेदारी दी है मैं उससे खुश हूं और अपनी क्षमता अनुसार उसे पूरा करूंगा।  डॉ. सिंह का कहना है कि पिछले 28 साल के संसदीय जीवन में मैं कभी न रूठा हूं और न ही कभी हताश और निराश हुआ हूं। जिस अखबार ने यह खबर छापी है उसी अखबार ने अपने अंदर के पृष्ठ पर यह भी छापा है कि संसदीय कार्य को लेकर मैं सक्रिय हो गया हूं।