मप्र में 5 लाख के पार संक्रमितों का आंकड़ा, 13417 नए केस, 98 ने हारी जिंदगी

मप्र में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 525407 पहुंच गई है और वर्तमान में एक्टिव केसों की संख्या 94276 हो गई है।

मध्य प्रदेश
3D illustration of Coronavirus, virus which causes SARS and MERS, Middle East Respiratory Syndrome

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मप्र (MP) में दूसरी लहर के बाद कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 5 लाख के पार हो गया है, इसमें 94 हजार से ज्यादा वर्तमान में एक्टिव केस है। पिछले 24 घंटे में 13417 केस सामने आए है और 98 ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इसमें इंदौर और भोपाल में एक बार फिर रिकॉर्ड 1800 के पार नए केस मिले है वही ग्वालियर में फिर 1100 के पार और जबलपुर में 800 के करीब केस सामने आए है।ये आंकड़ें तब सामने आए है जब कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) लागू है और संक्रमण की चैन तोड़ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए जा रहे है।

यह भी पढ़े.. MP Board: 10वीं-12वीं को छोड़ 31 मई तक सभी स्कूलों की ऑनलाइन क्लासेस निरस्त, आदेश जारी

स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार, मप्र में पिछले 24 घंटे में 13417 नए कोरोना पॉजिटिव सामने आए है और 98 कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए । इसमें इंदौर में 1837, भोपाल 1836, ग्वालियर में 1198, जबलपुर में 799, उज्जैन में 326,  रीवा में 349, बैतूल 312 और रतलाम में 299 नए मामले सामने आए है। वही एक दर्जन जिलों में 200 से ज्यादा केस मिले है।वही करीब 2 दर्जन जिलों में 150 से ऊपर केस मिले है।

वही इंदौर-जबलपुर में 7, भोपाल में 9, ग्वालियर में 8,विदिशा-विदिशा-दतिया में 4-4 के अलावा अन्य जिलों में 2-2,3-3 की मौत हुई है। इंदौर और भोपाल में एक्टिव केसो की संख्या 13 हजार, ग्वालियर में 9 हजार और जबलपुर में 5 हजार के पार हो गई है।मप्र में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 525407 पहुंच गई है और वर्तमान में एक्टिव केसों की संख्या 94276 हो गई है।

यह भी पढ़े.. गेहूं उपार्जन : मध्य प्रदेश के किसानों को बड़ी राहत, 25 मई तक होगी खरीदी

इधर, सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने कहा है कि कोरोना के खिलाफ युद्ध स्तर पर संघर्ष जारी है। संक्रमित भाई-बहनों के बेहतर इलाज की व्यवस्था की जा रही है। राज्य शासन की दोहरी रणनीति है, जिसमें एक ओर संक्रमण को बढ़ने से रोका जा रहा है, वहीं दूसरी ओर ऑक्सीजन की आपूर्ति लगातार सुनिश्चित की जा रही है।

मप्र मप्र