भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। ‘मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री का बदलना अब तय है’ यह बात बीजेपी संगठन या सरकार की ओर से नहीं बल्कि कांग्रेस की ओर से दिग्विजय सिंह की ओर से आई है। दिग्विजय ने ट्वीट कर मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री पद पर दो संभावित उम्मीदवारों के नाम भी बताए हैं।

भोपाल आते समय विधायक की गाड़ी पलटी, विधायक सुरक्षित, ड्राइवर घायल

मध्यप्रदेश में भाजपा की निगाह मे भले ही सब कुछ ऑल इज वेल चल रहा हो और यह दावा किया जा रहा हो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह के नेतृत्व में स्थिर सरकार है जिसके बेहतर कामकाज के लिए भले ही केंद्र सरकार भी पीठ थपथपा रही है, लेकिन दिग्विजय सिंह की निगाह में सब कुछ ठीक नहीं। थोड़ी देर पहले राज्यसभा सासंद दिग्विजय सिंह ने एक ट्वीट किया है और इस ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि “मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री पद के दो दावेदार हैं। नरेंद्र मोदी की ओर से प्रहलाद पटेल और संघ की ओर से वीडी शर्मा। मामू का जाना अब तय है।” दिग्विजय सिंह ने यह भी लिखा है कि बाकी उम्मीदवारों के साथ मेरी सहानुभूति है।

गृह जेल मंत्री डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने दिग्विजय के बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि “दिग्विजय इतनी चिंता यदि कांग्रेस के पदों को लेकर कर लेते तो शायद बेहतर होता। कांग्रेस में ऊहापोह की स्थिति है। प्रदेश अध्यक्ष कौन बनेगा या नेता प्रतिपक्ष कौन होगा यह तय नहीं हो पा रहा है और दिग्विजय सिंह को बीजेपी की पड़ी है।” नरोत्तम ने तंज कसते हुए कहा कि उन्हें यह पता है कि दिग्विजय यह सब बयान किसके कहने से दे रहे हैं। हालांकि दिग्विजय ने यह बयान किस आधार पर दिया यह तो वही जाने लेकिन यह ट्वीट ठीक वैसी ही स्थिति दिखाता है जैसे बिना बादल की बरसात हो क्योंकि बीजेपी के अंदर खाने में जो कुछ भी पक रहा हो फिलहाल तो शिवराज मजबूत नजर आते हैं।