भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। गृह एवं जेल मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा से मिलने के लिए प्रदेश के पूर्व मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक डॉ गोविंद सिंह बुधवार को उनके चार इमली स्थित आवास पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने पत्रकारों से बातचीत करते हुए इसे क्षेत्र की समस्याओं के समाधान के लिए की गई मुलाकात बताया और नरोत्तम के साथ अपनी दोस्ती को लेकर चुटकी भी ली।

जयवर्धन सिंह ने कसा तंज- “ऑक्सीजन की कमी नहीं हाजमोला के रिएक्शन से मरे होंगे लोग”

कांग्रेस के दिग्गज नेता डॉक्टर गोविंद सिंह बुधवार की सुबह प्रदेश के गृह एवं जेल मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा से मिले। लगभग पौन घंटे तक बंद कमरे में हुई इस मुलाकात का अनौपचारिक ब्यौरा तो सामने नहीं आया लेकिन डॉक्टर गोविंद सिंह ने बाद में पत्रकारों से कहा कि वे अपने क्षेत्र की समस्याओं को लेकर नरोत्तम मिश्रा से मिलने आए थे। डॉक्टर गोविंद सिंह ने कहा कि उनके क्षेत्र में वर्षों के बाद जनसंख्या काफी बढ़ी है अपराध भी बढ़े हैं, लेकिन पुलिस थानों की संख्या काफी कम है। नरोत्तम से इसी संबंध में बातचीत करने पहुंचे थे। जब पत्रकारों ने उनसे कहा कि नरोत्तम आपके पुराने मित्र हैं और वह हमेशा कहते रहते हैं कि डॉक्टर गोविंद सिंह के साथ अत्याचार हुआ है और उन्हें प्रदेश अध्यक्ष या नेता प्रतिपक्ष बनाए जाना चाहिए तो हंसते हुए डॉक्टर गोविंद सिंह बोले कि “नरोत्तम की तो आदत है आपस में लड़ाने की और वह चाहते हैं कि कांग्रेस में हमारी छवि खराब हो। ऐसे दोस्त से तो भगवान बचाए।”

गोविंद सिंह ने यह भी कहा कि वे कभी किसी पद के मोहताज नहीं रहे। ईश्वर ने उन्हें बहुत कुछ दिया है वह सात बार विधायक रहे, मंत्री भी बन गए। अब यह निर्णय आलाकमान को लेना है कि कौन किस पद पर बैठेगा। बीजेपी और आरएसएस को झूठ का प्रचार करने वाली पार्टी बताते हुए उन्होंने कहा यह बचपन से ही 4-4,5-5 साल के बच्चों को झूठ बोलने की ट्रेनिंग RSS में दी जाती है और यह हिटलर के मूल सिद्धांत पर आधारित पार्टी है जो कहता था कि हजार बार झूठ बोलोगे तो वह सच बन जाएगा।