विद्युत कंपनी ने उपभोक्ताओं को दी बड़ी राहत, ये सुविधा उपलब्ध करवाने वाली देश की पहली कंपनी

कंपनी की इस सुविधा देने पर ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने अधिकारियों और कर्मचारियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है।

ऊर्जा मंत्री

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में बिजली उपभोक्ताओं (Electricity consumers) को प्रदेश सरकार ने राहत दी है। जिसके बाद अब बिजली संबंधी शिकायत दर्ज कराने के सरल नियम तय किए गए हैं। उपभोक्ता 1912 पर कॉल कर बिजली संबंधित शिकायत दर्ज करा सकेंगे। बिजली उपभोक्ताओं के लिए वॉइसबोट (Voice Bot)की सुविधा देने वाली मप्र विद्युत कंपनी देश की पहली कंपनी है।

दरअसल मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी पहली ऐसी कंपनी है। जिसने उपभोक्ताओं को शिकायत दर्ज कराने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित वॉइसबोट की सुविधा दी है। उपभोक्ता द्वारा दिए गए इनपुट के आधार पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करता है। इसमें उपभोक्ता को ज्यादा सवालों के जवाब नहीं देने होते। इसके जरिए उपभोक्ता को शिकायत दर्ज कराना आसान और सुविधाजनक होगा। अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर के माध्यम से शिकायत दर्ज की जाएगी।

Read More: MP News: पुलिसकर्मियों को जल्द मिलेगा प्रमोशन, प्रक्रिया तेज, विभाग ने मांगी जानकारी

इतना ही नहीं उपभोक्ता (consumer) शिकायत का तुरंत निराकरण सुनिश्चित किया जाएगा। इसके साथ-साथ को उपभोक्ता शिकायत क्षेत्रीय भाषा में भी दर्ज करा सकेंगे। बिजली उपभोक्ता 1912 पर कॉल लगाकर सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। यह सुविधा भोपाल, नर्मदा पुरम, ग्वालियर चंबल संभाग के 16 जिलों में लागू कर दी गई है। इसके अलावा उपभोक्ता को शिकायत दर्ज करने में लगने वाली समय की बचत होगी। इसके साथ टेलीकॉलर के माध्यम से त्रुटि रहित शिकायत दर्ज होगी।

वही कंपनी द्वारा इस अप्रत्यक्ष टेलीकॉलर का नाम ‘निष्ठा’ रखा गया है। कंपनी की इस सुविधा देने पर ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने अधिकारियों और कर्मचारियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी है। वॉइस बोट (Voice Bot) की सुविधा के माध्यम से शिकायत सुनने का मध्यप्रदेश देश में पहला राज्य बन गया है। इसके साथ ही सुविधा के माध्यम से कंपनी एक समय में कॉल अटेंड करने की क्षमता भी दोगुनी कर ली है।