6 दिन पहले BJP में शामिल हुए थे पूर्व MLA, अब भाजपा ने दिखाया बाहर का रास्ता, हलचल तेज

लखनऊ, डेस्क रिपोर्ट। BJP ने एक सप्ताह पहले पार्टी में शामिल हुए बसपा के पूर्व विधायक जितेंद्र सिंह बबलू (Jitendra Singh Bablu) को निष्कासित कर दिया है। जिसके बाद मामला गरमा गया है। कथित तौर पर निष्कासन तब हुआ जब BJP नेता रीता बहुगुणा जोशी ने बबलू के भाजपा में प्रवेश का विरोध करते हुए पार्टी में शिकायत दर्ज कराई। बबलू पर BSP में रहने के दौरान रितु का घर जलाने का आरोप लगा है।

ज्ञात हो कि एक दर्जन मामलों में नामजद पूर्व विधायक जितेंद्र सिंह बबलू (Former MLA Jitendra Singh Bablu) मायावती सरकार (Mayawati government) में बसपा विधायक (BSP MLA) थे। उन्होंने बसपा सरकार में अपना दबदबा कायम रखा और उन्हें बसपा सुप्रीमो और तत्कालीन यूपी की सीएम मायावती (CM Mayawati) का करीबी माना जाता था। उनके भाई को मायावती ने MLC बनाया था। तत्कालीन प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी (Rita Bahuguna Joshi) के घर को जलाने की कोशिश के बाद बबलू राष्ट्रीय सुर्खियों में छा गए थे।

Read More: सांसद-विधायकों को लगा बड़ा झटका, Supreme Court ने सुनाया महत्वपूर्ण फैसला

बबलू और उसके साथियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था। इस मामले में पूर्व विधायक को जेल भी जाना पड़ा था। रीता बहुगुणा अब बीजेपी की दिग्गज नेता हैं। वह प्रयागराज से पार्टी की लोकसभा सांसद हैं। उन्होंने योगी सरकार में मंत्री के रूप में भी काम किया।

इस महीने की शुरुआत में 4 अगस्त को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने राज्य की राजधानी लखनऊ में आयोजित एक समारोह में जितेंद्र सिंह बबलू को पार्टी में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया था। तब रीता बहुगुणा ने बबलू के BJP में प्रवेश पर आपत्ति जताई थी। जोशी ने पार्टी नेतृत्व को बबलू के संबंध में अपनी आपत्ति से अवगत कराया था। हालांकि राज्य इकाई ने आगे बढ़कर जितेंद्र सिंह बबलू को पार्टी में शामिल कर लिया। पिछले साल भी बबलू को पार्टी में लाने की कोशिश की गई थी, लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं के कड़े विरोध के बाद फैसला टाल दिया गया था।