Farmers Protest : 8 दिसंबर को भारत बंद ऐलान, कांग्रेस और AAP का किसानों को समर्थन

कांग्रेस ने ट्वीट (Tweet) कर लिखा है कि कांग्रेस पार्टी अन्नदाता के अधिकारों की लड़ाई में अन्नदाता के साथ है। कांग्रेस पार्टी 8 दिसंबर को किसानों के भारत बंद के आह्वान का पूर्ण समर्थन करती है

bharat band

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कृषि बिलों (Agricultural bills) को लेकर केन्द्र की मोदी सरकार (Modi Government) के खिलाफ फैली किसान आंदोलन (Farmer protests) की आग अब कम होने का नाम नही ले रही है। एक तरफ सरकार बातचीत से समाधान निकालने की कोशिश कर रही है वही दूसरी तरफ  किसानों ने अब 8 दिसंबर (8th December) को भारत बंद (Bharat Bandh) का ऐलान किया है।इस बंद का कांग्रेस (Congress) और मध्यप्रदेश की आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) ने भी समर्थन किया है।

कांग्रेस ने ट्वीट (Tweet) कर लिखा है कि कांग्रेस पार्टी अन्नदाता के अधिकारों की लड़ाई में अन्नदाता के साथ है। कांग्रेस पार्टी 8 दिसंबर को किसानों के भारत बंद के आह्वान का पूर्ण समर्थन करती है।कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा (Congress Spokesperson Pawan Khera) ने ट्वीट कर लिखा है कि मैं यहां से घोषणा कर रहा हूं कि कांग्रेस पार्टी 8 दिसंबर को होने वाले भारत बंद का पूर्ण समर्थन करती है।कांग्रेस ने आठ दिसंबर को भारत बंद का समर्थन करने का फैसला किया है। हम अपने पार्टी कार्यालयों पर भी प्रदर्शन करेंगे। यह किसानों के समर्थन में राहुल गांधी की तरफ से बढ़ाया गया मजबूत कदम होगा। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि प्रदर्शन सफल हो।

किसानों के समर्थन में उतरी मध्यप्रदेश आम आदमी पार्टी

वही आम आदमी के प्रदेश अध्यक्ष पंकज सिंह (Madhya Pradesh President Pankaj Singh) ने भी ऐलान किया है कि पंजाब (Punjab), दिल्ली (Delhi), से लेकर मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) तक किसानों  (Farmers) की आवाज बनी आम आदमी पार्टी, आंदोलन को दी नई ताकत मध्यप्रदेश के हर जिले में जनता से भारत बंद की अपील करती है। आम आदमी पार्टी मध्यप्रदेश किसान विरोधी काले कानून के खिलाफ आंदोलन करेगी। आम आदमी पार्टी का हर एक कार्यकर्ता पूरी ताकत से किसानों के इस आंदोलन में कंधे से कंधा मिलाकर अंत तक साथ रहेगा, जब तक सरकार इस काले कानून को वापस नही लेती हमारा विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा, किसानों की सभी मांगे यदि नही मानी गई तो आम आदमी पार्टी मध्यप्रदेश में भी बड़ा किसान आंदोलन करेगी।हालांकि आम आदमी पर्टी मध्यप्रदेश का हर जिले में केंद्र सरकार द्वारा लाये गए कृषि बिल के खिलाफ लगातार विरोध प्रदर्शन जारी है।

किसानों की मांगे माने सरकार
पंकज सिंह ने कहा किसान है तो देश है, किसी भी हाल में नही होने देंगे किसानों का हनन, काले कानून के खिलाफ हर जिले में विरोध प्रदर्शन और आंदोलन (Protest) करेंगे। केंद्र सरकार को अविलंब किसानों की सारी मांगो को मानना चाहिए। MSP का बने कानून सरकार भी चाहे तो नही MSP से नीचे फसल खरीदीन की जा सके ।

दिल्ली में AAP के कई मंत्री-विधायक किसानों की सेवा में लगे

पकंज सिंह ने कहा कि दिल्ली सरकार ने किसानों का समर्थन करते हुए अपने कई मंत्रियों विधायको (Ministers-MLA) को किसानों कि सेवा में लगाया है, दिल्ली (Delhi) के कई मंत्री और विधायक किसानों के रहने, खाने-पीने के प्रबंध को देखने के लिए निजी तौर पर मौजूद है, केजरीवाल सरकार (Kejriwal government) ने दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Water Board) को किसानों (Farmers) के लिए पीने का पानी मुहैया करवाने के आदेश जारी कर दिए थे। इस आदेश के बाद दिल्ली जल बोर्ड के टैंकर किसानों के पास सिंघु बॉर्डर पर भेजे गए। आम आदमी पार्टी का हर एक कार्यकर्ता पूरी ताकत से किसानों के इस आंदोलन में कंधे से कंधा मिलाकर अंत तक साथ रहेगा, जब तक सरकार इस काले कानून को वापस नही लेती हमारा विरोध प्रदर्शन जारी रहेगा, किसानों की सभी मांगे यदि नही मानी गई तो आम आदमी पार्टी मध्यप्रदेश में बड़ा किसान आंदोलन करेगी।