जबलपुर- नकली रेमडेसिवीर मामले में सिटी अस्पताल के संचालक सहित 3 पर मामला दर्ज

सात आरोपी गिरफ्तार, 90 लाख रुपए और 3370 नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन बरामद

जबलपुर, संदीप कुमार। नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन (Remdesivir) सप्लाई के मामले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। सिटी अस्पताल (City Hospital) के संचालक सरबजीत सिंह मोखा, देवेश चौरसिया और सपन जैन पर विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। एएसपी रोहित काशवानी के मुताबिक ओमती थाना पुलिस ने सिटी अस्पताल के संचालक सरबजीत सिंह मोखा, कर्मचारी देवेश चौरसिया और सपन जैन के खिलाफ गैर इरादतन हत्या-नकली दवाई का विक्रय सहित धारा 274, 275, 308,420, 120 ए, 53 आपदा प्रबंधन का प्रकरण दर्ज किया गया है।

जबलपुर : नकली इंजेक्शन मामले में सबूत जुटाने में लगी पुलिस, गुजरात से जुड़े तार

दरअसल गुजरात के मोरबी शहर से पुलिस ने नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन बनाने वाले गिरोह का पदार्फाश किया था। गुजरात क्राइम ब्रांच (Gujrat crime branch) गुरुवार देर रात जबलपुर पहुंची और अधारताल पुलिस की मदद से आशानगर अधारताल निवासी सपन उर्फ सोनू जैन को गिरफ्तार कर ले गई थी। सोनू भगवती फर्म का संचालक है और उसके चाचा की अधारताल में और परिवार की एक दुकान मालवीय चौक में है। गुजरात पुलिस ने सात आरोपियों को गिरफ्तार करते हुए 90 लाख रुपए और 3370 नकली रेमडेसिवीर इंजेक्शन जब्त किए हैं। इधर एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर ओमती थाना पुलिस ने इस मामले में नामी अस्पताल संचालक सरबजीत सिंह मोखा सहित तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।