जयवर्धन ने लिखा यह शेर तो पिता दिग्विजय ने कुछ यूं थपथपाई पीठ

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव दिग्विजय सिंह के पुत्र, पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह ने बुधवार को कांग्रेस के प्रदर्शन के दौरान पुलिस प्रशासन से दो-दो हाथ किए। इसी को लेकर उन्होंने एक ट्वीट किया है और इस ट्वीट पर उनके पिता दिग्विजय सिंह ने उन्हें बधाई दी है।

एक्शन में जयवर्धन, प्रदर्शन के दौरान दिखाया जुझारू व्यक्तित्व

महंगाई, बिजली के बिल, सस्ते अनाज के वितरण में धांधली जैसे कई मुद्दों को लेकर युवक कांग्रेस ने बुधवार को प्रदेश कांग्रेस कार्यालय से मुख्यमंत्री निवास घेरने का कार्यक्रम रखा था। इस दौरान जब कांग्रेसी आगे बढ़े तो उनकी पुलिस के साथ जमकर झूमाझटकी हुई। वाटर कैनन का प्रयोग भी किया गया और इस दौरान जयवर्धन सिंह का कुर्ता और पैजामा दोनों फट गए। मैदानी संघर्ष में जयवर्धन पहली बार इस तरह की जीवटता देते दिखाई दिए। अपने इस संघर्ष पर अपनी एक फोटो के साथ जयवर्धन सिंह ने ट्वीट किया है और उसमें लिखा है “महंगाई से बचाने इस वतन के लिए, हर जुल्म मंजूर है इस तन के लिए।”

जयवर्धन के इस ट्वीट पर दिग्विजय सिंह ने उनकी पीठ थपथपाते हुए लिखा है “शाबाश जेवी। संघर्ष ही जीवन है। भाजपा शासन में महंगाई, बेरोजगारी, बिजली के बढ़े हुए बिल, सस्ते अनाज के वितरण में धांधली के खिलाफ व किसान मजदूर के पक्ष में मध्य प्रदेश युवक कांग्रेस के आंदोलन में जिस जोश का परिचय होने दिया, उन्हें हार्दिक बधाई।” जयवर्धन के ट्वीट पर उन्हें जमकर बधाइयां मिल रहीं हैं। कई लोग उन्हें कांग्रेस के भावी संघर्ष का प्रतीक बता रहे हैं तो कुछ लोग उन्हें नेक्स्ट सीएम ऑफ एमपी भी कह रहे हैं। एक बात तो निश्चित है कि इस प्रदर्शन ने जयवर्धन की अभी तक की सरल और सहज छवि को एक आक्रामक और जुझारू नेता की छवि के रूप में भी बदला है जो आने वाले वक्त के बदलाव का भी संकेत है।