कांग्रेस का ट्वीट- मोदी को ललकारते शिवराज, जीतू बोले- आखिर किस पर भरोसा करें किसान?

एमपी कांग्रेस (MP Congress) ने ट्वीट कर लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ( Shivraj Singh Chouhan) ललकार रहे है। किसान दो बड़े नेताओं के झूठ में उलझ गया है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ देश में कृषि कानूनों (Agricultural Laws) के खिलाफ किसान आंदोलन (Farmers Protest) चल रहा है, केन्द्र की मोदी सरकार (Modi Government) लगातार किसानों को मनाने में जुटी है, वही बीजेपी भी किसानों को समझाने की कोशिश कर रही है, वही विपक्ष लगातार केन्द्र से लेकर राज्य तक सरकारों की घेराबंदी किए हुए है।इसी बीच एमपी कांग्रेस ने एक ट्वीट के माध्यम से सवाल कर सियासी गलियारों में हलचल पैदा कर दी है।

दरअसल, एमपी कांग्रेस (MP Congress) ने ट्वीट कर लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ( Shivraj Singh Chouhan) ललकार रहे है। किसान दो बड़े नेताओं के झूठ में उलझ गया है। एक तरफ पीएम मोदी कहते है कि किसान अपनी फसल को देश में कहीं भी बेच सकता है। वही शिवराज चेतावनी दे रहे है कि बाहर का किसान (Farmers) फसल बेचेगा तो जेल भेजेंगे। एमपी कांग्रेस ने सवाल करते हुए पूछा है कि मोदी जी, आप दोनों मे से कोई एक तो झूठ बोल ही रहा है, कौन है वो..?

जीतू बोले- आखिर किस पर भरोसा करें किसान

वही पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक जीतू पटवारी (Jitu Patwari) ने भी ट्वीट (Tweet) कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से पूछा है कि आखिर किसान किस पर भरोसा करे।जीतू पटवारी ने कृषि कानून से जुड़े पीएम मोदी  के ट्वीट और सीएम शिवराज के दूसरे राज्यों की फसल की एमपी (MP) में आवक रोकने को लेकर किए गए ट्वीट (Tweet) को शेयर करते हुए ये सवाल पूछा है। पटवारी ने शनिवार शाम प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO Office) और मुख्यमंत्री शिवराज  का स्टेटमेंट दिखाती एक न्यूज एजेंसी के ट्वीट की तुलना कर यह सवाल पूछा है।  .

ये है पूरा मामला
दरअसल, बीते महिनों पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा था कि कोई भी व्यक्ति अपना उत्पाद, दुनिया में कहीं भी बेच सकता है, जहां चाहे वहां बेच सकता है।लेकिन केवल मेरे किसान भाई-बहनों को इस अधिकार से वंचित रखा गया था।अब नए प्रावधान लागू होने के कारण, किसान अपनी फसल को देश के किसी भी बाजार में, अपनी मनचाही कीमत पर बेच सकेगा। वही दो दिन एक सभा में शिवराज सिंह ने कहा था कि मैंने तय कर दिया है कि जितनी पैदावार किसान के यहां होगी उतनी खरीद होगी, लेकिन बाहर से आकर कोई बेचेगा तो उसकी फसल राजसात होगी और जेल भेजे जाएंगे।

 

कांग्रेस का ट्वीट- मोदी को ललकारते शिवराज, जीतू बोले- आखिर किस पर भरोसा करें किसान?