MP Corona : इंदौर में 618 संक्रमित की पुष्टि, भोपाल में 347 पॉजिटिव, तेजी से बढ़े एक्टिव केस

मध्यप्रदेश में पॉजिटिविटी रेट से बढ़कर 1% के पार पहुंच गई है। वहीं रिकवरी रेट 98% पर बना हुआ है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। तीसरी लहर (third wave) की दस्तक के साथ ही कोरोना का संक्रमण (MP corona) तेजी से फैल रहा है। मध्यप्रदेश में आज 1300 से अधिक नए मामलों की पुष्टि हुई है। राजधानी भोपाल में जहां 340 से अधिक मरीजों की पुष्टि हुई है। वहीं इंदौर में यह आंकड़ा बढ़कर 618 पहुंच गया है। पुलिस के जवान सहित स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर भी संक्रमण की चपेट में आ गया। दरअसल राजधानी भोपाल में 28 बच्चे कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसके अलावा GMC और स्वास्थ्य विभाग के चाय से डॉक्टर की भी रिपोर्ट करना पॉजिटिव आई है।

इसके अलावा 6 दिन पहले स्वस्थ हुए व्यक्ति भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। जिसके बाद हमीदिया के मेडिसिन विभाग के एचओडी लोकेंद्र दवे का कहना है कि इम्यून सिस्टम (immune system) कमजोर होने के कारण व्यक्ति दोबारा इन्फेक्शन की चपेट में आ सकता है। कोरोना वायरस के बार-बार हो रहे बदलाव की वजह से शरीर के इम्यून सिस्टम पर बेहद असर पड़ा है। जिससे व्यक्ति के दोबारा संक्रमित होने की संभावना बढ़ जाती है। हालांकि उन्होंने दावा किया है कि इस बार जो मरीज कोरोना संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। उनमें लक्षण सामान्य है।

Bhopal Corona : राजधानी की बात करें तो आज 347 संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई है। जिसके बाद राजधानी में एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 962 हो गई है। इसमें से 935 लोग होम आइसोलेशन की सुविधा में है जबकि 26 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे पहले भोपाल में 1 जनवरी को 16 संक्रमित मरीजों की पुष्टि हुई थी जिसके वादी आंकड़ा बढ़कर 300 के पार पहुंच गया है।

MP Corona : इंदौर में 618 संक्रमित की पुष्टि, भोपाल में 347 पॉजिटिव, तेजी से बढ़े एक्टिव केस

Indore Corona : दरअसल इंदौर में बीते 24 घंटे में 618 मरीजों की पुष्टि हुई है। वही दोबारा संक्रमित हुए मरीजों की संख्या 35 है। जिले में अब तक केवल 9 ओमाइक्रोन पॉजिटिव सैंपल्स की पुष्टि हुई है। इसके लिए 9180 सैंपल ओं की जांच की गई थी। इंदौर में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 2221 पहुंच गई है।

MP Corona : इंदौर में 618 संक्रमित की पुष्टि, भोपाल में 347 पॉजिटिव, तेजी से बढ़े एक्टिव केस

इसके अलावा मध्य प्रदेश के 52 जिलों में से 45 जिले में संक्रमण ने अपने पांव पसार लिए हैं। लगातार दो अंक में मरीजों की संख्या की पुष्टि हो रही है। हालांकि लक्षण सामान्य होने की वजह से मध्य प्रदेश में मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा जा रहा है। इसके साथ ही यदि 3 दिन तक उन्हें बुखार नहीं आता है तो 6 दिन में ही उनकी रिपोर्ट कोरोना नेगेटिव मानी जा रही है।

मध्यप्रदेश में पॉजिटिविटी रेट से बढ़कर 1% के पार पहुंच गई है। वहीं रिकवरी रेट 98% पर बना हुआ है। कोरोना के बढ़ते केसों पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान लगातार बैठक ले रहे हैं। वहीं मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी प्रदेश में फिलहाल लॉकडाउन और बाजार बंद जैसी गतिविधियां लागू नहीं होने की बात कही है।

बीते 24 घंटे में देश में संक्रमित मरीजों की संख्या लाख के पार पहुंच गई है। शुक्रवार को पूरे देश भर में 1,37,000 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। वहीं तीसरी लहर मैं संक्रमण फैलने की रफ्तार दूसरी लहर के मुकाबले 5 गुना अधिक है। हालांकि विशेषज्ञों का कहना है कि हर दिन में केस दोगुने हो रहे हैं यह रफ्तार अगर एक हफ्ता तक बनी रही तो तीसरी लहर अपनी पिक पर होगी। वही विशेषज्ञों ने उम्मीद जताई है कि 8 से 10 दिन में किस घटना शुरू हो सकते हैं।