MP : नहीं रही गुलाबो, वन विहार में छाया मातम

गुलाबों लगभग 40 वर्ष की थी और उसे मई 2006 में 25 साल की उम्र में कलंदरो से रेस्क्यू करके लाया गया था।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। वन विहार भोपाल (Van vihar, bhopal) में देश के सबसे वयोवृद्ध भालू गुलाबों (Bear Gulabo) की मौत हो गई है। गुलाबों की उम्र 40 वर्ष थी और वह पिछले 15 वर्ष से वन विहार में ही रह रही थी। भोपाल के वन विहार में गम का माहौल है। दरअसल देश भर के सबसे ज्यादा उम्र की भालू गुलाबों ने बीती रात दम तोड़ दिया। गुलाबों लगभग 40 वर्ष की थी और उसे मई 2006 में 25 साल की उम्र में कलंदरो से रेस्क्यू करके लाया गया था।

तब से लेकर अब तक वह वन बिहार में लाखों पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र रही थी। वन विहार में भालू के प्रबंधन की देखभाल करने वाले वाइल्डलाइफ एसओएस संस्था की निगरानी में उसे रखा गया था। लेकिन धीरे-धीरे उसके अंगों ने काम करना बंद कर दिया था। उसके पोस्टमार्टम में मौत का कारण उम्र और आंतरिक अंगों का काम न करना पाया गया है।

Read More : ऑनलाइन शिक्षा को लेकर सीएम शिवराज के बड़े निर्देश, तैयार हुए ई-कंटेंट, उच्च शिक्षा के छात्रों को होगा फायदा

गुलाबों का अंतिम संस्कार पूरे सम्मान के साथ वन विहार में किया गया। उसके जाने से पूरा वन विहार स्टाफ दुखी है और वहां पर गम का माहौल है। वन विहार में अब भालुओ की संख्या घटकर 20 रह गई है। दरअसल लंबे समय से भालुओ को लोगों के बीच प्रदर्शित करना कानूनन अपराध रहा है और कलंदरो से भालुओ को छुड़ाकर वन विहार में रखा जाता है।