MP News: शिक्षक भर्ती पर आई बड़ी अपडेट, BJP विधायक ने CM Shivraj से की ये मांग

BJP विधायक नारायण त्रिपाठी (narayan tripathi) ने इस मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chouhan) को पत्र लिखा है।

teacher

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) में शिक्षक भर्ती (teacher recruitment) प्रक्रिया को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल प्रदेश में चल रहे शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में सामान्य वर्ग के निर्धन उम्मीदवारों को OBC के समान समान अंक में छूट देने की मांग की गई है। BJP विधायक नारायण त्रिपाठी (narayan tripathi) ने इस मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chouhan) को पत्र लिखा है।

दरअसल अपने लिखे पत्र में नारायण त्रिपाठी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी (PMModi) द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों को EWS आरक्षण का लाभ दिया जा रहा है लेकिन अभी विषय पूर्ण रूप से परीक्षा में लागू नहीं किया गया है। पत्र में नारायण त्रिपाठी (narayan tripathi) ने राजस्थान और उत्तराखंड की सरकार का उल्लेख किया है। साथ ही उन्होंने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से EWS को OBC के समान छूट देने की मांग की है।

Read More: MPPEB DAHET 2021 : उम्मीदवारों के लिए राहत की खबर, 2 प्रवेश परीक्षाओं का नोटिफिकेशन जारी, जाने डिटेल्स

BJP विधायक नारायण त्रिपाठी ने लिखा कि राजस्थान और उत्तराखंड में EWS वर्ग को ओबीसी के समान न्यूनतम अंक में छूट दी जा रही है। राजस्थान में UGC नेट 2020 21 और समस्त SSC की परीक्षा में EWS श्रेणी को OBC के समान रियायत दी गई थी। साथ ही नारायण त्रिपाठी ने सीएम शिवराज (CM Shivraj) से आग्रह किया कि कमजोर रुप से गरीब को उम्मीदवारों को इस श्रेणी का लाभ दिया जाए और उच्च माध्यमिक शिक्षक भर्ती 2018-19 में रियायत प्रदान कर शिक्षक पात्रता परीक्षा में अवसर दिया जाए।

इससे पहले उच्च माध्यमिक शिक्षक एवं माध्यमिक शिक्षक की सीधी भर्ती के प्रावधिक चयन या प्रतीक्षा-सूची के जिन अभ्यर्थियों ने एक भी दस्तावेज अपलोड नहीं किये हैं, उन्हें 29, 30 जून और 1 जुलाई 2021 तक वैध दस्तावेज अपलोड करने के लिए अंतिम अवसर दिया जा रहा है।

आयुक्त लोक शिक्षण जयश्री कियावत ने बताया कि अभ्यर्थियों द्वारा दस्तावेज सत्यापन चयनित जिले के सत्यापन केन्द्र पर 5 जुलाई 2021 को किया जायेगा। संबंधित अभ्यर्थी मूल दस्तावेज (Teacher Recruitment) के साथ उपस्थित होकर सत्यापन अधिकारी से दस्तावेज सत्यापन अनिवार्य रूप से करा लें अन्यथा अभ्यर्थिता स्वतः निरस्त मानी जायेगी।