MP: 5 लाइसेंस निलंबित, 18 अधिकारियों को नोटिस, 6 का वेतन काटा, 126 पर जुर्माना

जनपद पंचायत जैतहरी अंतर्गत ग्राम पंचायत खोड़री के सचिव चिंतामणि नायक पर 1500 रुपये की शास्ति अधिरोपित की है।

mp NEWS

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में शासकीय कामों में लापरवाही पर एक्शन का दौर जारी है। एक तरफ दमोह में सहायक ग्रेड-03, मुरैना में 13 अधिकारियों और सतना में 4 अधिकारियों को नोटिस जारी किया गया है।वही दूसरी तरफ  मुरैना में 6 अधिकारियों का वेतन काटने  और गुना में 5 मेडिकल स्टोर्स के लाइसेंस निलंबित (Suspended) कर दिए गए है। गए है।इसके अलावा अनूपपुर में ग्राम पंचायत सचिव और नरसिंहपुर में 125 लोगों पर करीब 6500 हजार का जुर्माना लगाया गया है।

यह भी पढ़े.. MP News: 8वीं के छात्रों के लिए बड़ी खबर, 12000 मिलेगी छात्रवृत्ति, जानें नियम-पात्रता

दमोह में पंचायत चुनाव 2021-22 (MP Panchayat Election 2021-22) को दृष्टिगत् रखते हुए, सहायक ग्रेड-03 तहसील कार्यालय जबेरा लक्ष्मण यादव को ड्यूटी रिटर्निंग आफिसर जनपद पंचायत जबेरा के यहां निर्धारित की है, परंतु लक्ष्मण यादव द्वारा गत दिवस कार्य में व्यवधान पैदा करने के आरोप में शोकॉज जारी हुआ है, उन्हे कारण बताओ पत्र उप-जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा जारी किया है। पत्र में कहा गया है उनके द्वारा इस प्रकार की लापरवाही एवं उदासीनता बरतने के आरोप में क्यों न उनके विरूद्ध दंडित किये जाने के लिए कार्यवाही की जायें। अत: तत्संबंध में अपना उत्तर नोटिस प्राप्ति के 24 घंटे के भीतर कार्यालय में प्रस्तुत किया जाये। समय अवधि में उत्तर प्राप्त न होने की दशा में उनके विरूद्ध एक पक्षीय कार्यवाही की जावेंगी।

13 अधिकारियों को नोटिस, वेतन काटने के निर्देश

मुरैना कलेक्टर (Morena Collector) बी.कार्तिकेयन ने एक पखवाड़ा के बाद सीएम हेल्पलाइन की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान पिछले दिनों में महत्वपूर्ण विभागों के अधिकारियों ने सीएम हेल्पलाइन में कोई रूचि नहीं ली। इस पर कलेक्टर ने तत्काल 7 अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।नोटिस में DEO ट्रायवल मुकेश पालीवाल, ITI के प्राचार्य सोलंकी को नोटिस एवं 7 दिन का वेतन काटने के निर्देश दिये। वहीं RTO अर्चना परिहार, EPHE बाथम, MPEB पीके शर्मा, DRCS और CMO कैलारसअतर सिंह रावत को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। इसके अलावा उपसंचालक बैटनरी त्यागी पिछली DLCC बैठक में बिना सूचना के अनुपस्थित पाये गये, इस पर कलेक्टर ने उन्हें कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।

यह भी पढ़े.. MP के छात्रों के लिए गुड न्यूज, इस योजना अंतर्गत 51 लाख 85000 की राशि मंजूर, जानें पात्रता

मुरैना में कलेक्टर बी.कार्तिकेयन ने सोमवार को टीएल बैठक के दौरान 6 अधिकारियों द्वारा शासकीय योजनाओं में प्रगति नहीं देने पर उन्हें कारण बताओ नोटिस एवं वेतन काटने की कार्यवाही की है।CM Helpline की समीक्षा के दौरान जौरा SDM विनोद सिंह को कारण बताओ नोटिस और पहाडगढ़ नायब तहसीलदार हरिओम पचौरी का 10 दिन का वेतन काटने तथा चंबल कमिश्नर को एक वेतनवृद्धि रोकने का प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिये। वही राजस्व पखवाड़ा में एएसएलआर शिरोमण सिंह कुशवाह को 503 की पेडेंसी तथा बैठक से अनुपस्थित होने पर कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये। राजस्व पखवाड़ा में रिक्त भूमि के प्रकरणों में तहसीलदारों को समय पर सुझाव नहीं देने पर एजेन्सी केश्री रवि का दो दिवस का वेतन काटने के निर्देश दिये।

5 मेडिकल स्‍टोर्स के लाइसेंस निलंबित

गुना कलेक्टर (Guna Collector) श्रीफ्रेंक नोबल ए. द्वारा औषधि विक्रय संस्थानों के औचक निरीक्षण के दौरान पाई गई अनियमितताओं के आधार पर जिले में संचालित पांच मेडिकल स्टोर के लाइसेंस निलंबित किये गये है। मेसर्स ओम श्री मेडिकल, नानाखेड़ी गुना, मेसर्स शेखर मेडिकल स्टोर एंड एजेंसी म्याना, मेसर्स चंचल फार्मा, आरोन, मेसर्स श्री राम मेडिकल स्टोर्स, उकावद के लाइसेंस आदेश प्राप्ति दिनांक से 03-03 दिवस के लिये तथा मेसर्स भार्गव मेडिकल, आरोन का लाइसेंस आदेश प्राप्ति दिनांक से 07 दिवस के लिये शामिल है। निलंबन अवधि के दौरान संस्थान के संचालक दवाओं का क्रय-विक्रय नहीं कर सकेगें। औषधि विक्रेताओं को निर्देशित किया गया है कि संस्थान से संचालन के दौरान औषधि एवं प्रशाधन सामग्री अधिनियम 1940 एवं नियमावली 1945 का पालन सुनिश्चित करें। औचक निरीक्षण के दौरान औषधि विक्रय संस्थान का संचालन नियमानुसार ना पाए जाने की स्तिथि में नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

4 अधिकारियों को नोटिस

सतना कलेक्टर अनुराग वर्मा ने विकासखंड अमरपाटन अंतर्गत उपार्जन केन्द्र मगराज के नोडल अधिकारी RAEO इन्द्रभान वर्मा एवं उपार्जन केन्द्र रामगढ़ के नोडल अधिकारी RAEO एमके पाण्डेय को उपखंड मजिस्ट्रेट अमरपाटन के दिनांक 18 दिसंबर को किये गये निरीक्षण के दौरान कर्तव्य स्थल पर बिना किसी सूचना या अनुमति के अनुपस्थित रहने पर कारण बताओ नोटिस जारी की है। नोटिस का जवाब तीन दिवस के अंदर प्रस्तुत करने के लिये कहा गया है। नियत अवधि में जवाब प्रस्तुत नहीं करने पर नियमानुसार एक पक्षीय कार्यवाही की जायेगी।

यह भी पढ़े.. अनाधिकृत कॉलोनियों के नियमितीकरण के नियमों को दिया गया अंतिम रूप, आमजन को मिलेगा लाभ

वही सतना में नियंत्रण कक्ष में दोपहर 2 बजे से 10 बजे तक पाली में कार्यरत सुरेश प्रसाद साकेत सहायक ग्रेड-3 और उपयंत्री एएस पांडेय के 23 दिसंबर को रात्रि 8 बजे और रात्रि 10 बजे अनुपस्थित पाए जाने पर कारण बताओ नोटिस जारी की गई है।अपर कलेक्टर एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश शाही ने ड्यूटी पर अनुपस्थित कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी कर 24 घंटे के भीतर जवाब मांगा है कि क्यों ना निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में घोर उदासीनता, कदाचरण, अनुशासनहीनता मानकर मध्यप्रदेश सिविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण एवं अपील) नियम 1966 के तहत दो वार्षिक वेतन वृद्धि रोकने और लोक प्रतिनिधित्व नियम 1951 के तहत अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाए।

ग्राम पंचायत सचिव पर 1500 रु. की शास्ति अधिरोपित

अनुपपुर अपर कलेक्टर सरोधन सिंह ने म.प्र. लोक सेवाओं के प्रदान की गारंटी अधिनियम के तहत समय-सीमा में आवेदकों को सेवाएं प्रदाय ना करने पर जनपद पंचायत जैतहरी अंतर्गत ग्राम पंचायत खोड़री के सचिव चिंतामणि नायक पर 1500 रुपये की शास्ति अधिरोपित की है। उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत खोड़री के सचिव ने जन्म का अप्राप्यता प्रमाण पत्र तथा मृत्यु का अप्राप्यता प्रमाण पत्र की सेवाएं समय-सीमा में आवेदकों को प्रदाय नहीं की थी।

125 व्यक्तियों पर 5000 से ज्यादा जुर्माना

नरसिंहपुर में रोको- टोको अभियान के तहत सोमवार 27 दिसम्बर को जिले के 8 नगरीय निकायों में बगैर मास्क के घूमने वाले 125 व्यक्तियों पर 5 हजार 150 रूपये का जुर्माना लगाया गया है। मास्क नहीं लगाने पर नगरीय निकाय क्षेत्र नरसिंहपुर में 25 व्यक्तियों पर दो हजार रूपये, गाडरवारा में 8 व्यक्तियों पर 300 रूपये, करेली में 5 व्यक्तियों पर 550 रूपये, गोटेगांव में 28 व्यक्तियों पर 560 रूपये, तेंदूखेड़ा में 41 व्यक्तियों पर 560 रूपये, चीचली में 6 व्यक्तियों पर 300 रूपये, सांईखेड़ा में 4 व्यक्तियों पर 330 रूपये तथा नगर परिषद सालीचौका में 5 व्यक्तियों पर 250 रूपये का जुर्माना लगाया गया है। इसके अलावा पुलिस विभाग द्वारा 3 व्यक्तियों पर 300 रूपये का जुर्माना लगाया गया।