MP Weather Update : मप्र में जल्द बदलेगा मौसम, पड़ेगी कड़ाके की ठंड, बारिश के भी आसार

पिछले चौबीस घंटे की बात करे तो सबसे गर्म होशंगाबाद और सागर (Hoshangabad and Sagar) में रात का न्यूनतम तापमान 15 डिग्री रहा, जबकि इंदौर और भोपाल में यह 14 से ज्यादा रिकॉर्ड किया गया है।

mp weather

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। आने वाले दिनों मे मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) का मौसम (MP weather) फिर बदलने वाला है।मौसम विभाग की माने तो पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों के आने के कारण आगामी 12-13 दिसंबर को एक प्रति चक्रवात बनने संभावना है, जिसके प्रभाव से राजधानी सहित प्रदेश के कुछ स्थानों पर बारिश भी हो सकती है।

मौसम विभाग (Weather Department)की माने तो वर्तमान में एक पश्चिमी विक्षोभ अफगानिस्तान और उत्तर भारत (Afghanistan and North India) के बीच में सक्रिय है, जिसके चलते हरियाणा (Haryana) और उससे लगे पंजाब पर एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है। एक प्रति चक्रवात (Cyclone) पश्चिम मप्र पर भी बना हुआ है। इन तीनों सिस्टम के कारण दिसंबर के पहले हफ्ते में भी गर्मी सी बनी हुई है। हालांकि आज सोमवार (Monday) को पश्चिमी विक्षोभ के उत्तर भारत के पहाड़ी क्षेत्रों में एंटर होने के आसार है, ऐसे में पहाड़ों पर बर्फबारी(Snowfall) और बारिश होने की भी संभावना है।आने वाले दिनों में इस सिस्टम से मौसम में बदलाव आने की उम्मीद है।इसके प्रभाव से अरब सागर से नमी मिलने के कारण 12-13 दिसंबर को बादल छाने के साथ ही राजधानी सहित प्रदेश के कुछ स्थानों पर बारिश भी हो सकती है।वही कड़ाके की ठंड 10 दिसंबर के बाद दस्तक दे सकती है। दिसंबर का चौथे सप्ताह में तापमान काफी नीचे आ सकता है, जिससे रात में कंपाने वाली ठंड रहेगी। दिन में भी इसका असर रहेगा।

पिछले चौबीस घंटे की बात करे तो सबसे गर्म होशंगाबाद और सागर (Hoshangabad and Sagar) में रात का न्यूनतम तापमान 15 डिग्री रहा, जबकि इंदौर और भोपाल में यह 14 से ज्यादा रिकॉर्ड किया गया है।वही पचमढ़ी में रात का पारा 6.8 डिग्री सेल्सियस तक आ गया।  हिमाचल से पश्चिमी विक्षोभ के निकलने के बाद तापमान में गिरावट आएगी। मौसम विभाग के मुताबिक, पश्चिमी विक्षोभ के चलते जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के ऊंचाई वाले इलाकों में सोमवार को बर्फ पड़ने की संभावना है। इसकी वजह से मैदानी इलाकों में ठंड भी बढ़ेगी