मप्र गेहूं उपार्जन पर ताजा अपडेट, 5.50 लाख किसानों के खातों में 4817 करोड़ ऑनलाइन ट्रांसफर

इस वर्ष 4 हजार 225 केन्द्रों पर 19 लाख 76 हजार 628 किसानों ने उपज विक्रय के लिए पंजीयन कराया, जो विगत वर्ष का 80 प्रतिशत है।

MP wheat procurement

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट।MP Wheat Procurement. मध्य प्रदेश के किसानों (MP Farmers) के लिए राहत भरी खबर है।प्रदेश में समर्थन मूल्य पर हो रहे गेहूं उपार्जन का भुगतान लगातार जारी है। प्रदेश में 9 मई सोमवार तक 39 लाख 82 हजार 42 मीट्रिक टन गेहूँ का उपार्जन किया गया। वही अब तक 5.50 लाख किसानों को 4817 रूपये का ऑनलाइन भुगतान किया जा चुका है।

यह भी पढ़े.. MPPEB MPTET 2022: उम्मीदवारों को बड़ी राहत, 11-12 मई को होगा दस्तावेजों का सत्यापन, ये रहेंगे नियम

प्रमुख सचिव खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण फैज अहमद किदवई ने बताया कि प्रदेश में सोमवार तक 39 लाख 82 हजार 42 मीट्रिक टन गेहूँ का उपार्जन किया गया। अब तक किसानों को 4817 करोड़ रूपये उनके खातों में ऑनलाइन अंतरित किये गये है। उन्होंने बताया कि भुगतान में पारदर्शिता के लिये पी.एफ.एम.एस. (पब्लिक फाइनेंसियल मैनेजमेंट सिस्टम) पोर्टल के माध्यम से राशि किसानों के खातों में जमा की जा रही है।

प्रमुख सचिव खाद्य किदवई ने बताया कि इस वर्ष 4 हजार 225 केन्द्रों पर 19 लाख 76 हजार 628 किसानों ने उपज विक्रय के लिए पंजीयन कराया, जो विगत वर्ष का 80 प्रतिशत है। इस वर्ष समर्थन मूल्य 2015 रूपये प्रति क्विंटल निर्धारित किया गया है। वर्ष 2021-22 में न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 रूपये निर्धारित किया गया था। विगत वर्ष 17 लाख 16 हजार 671 किसानों ने अपनी उपज का विक्रय किया था।

यह भी पढ़े.. MP News: किसानों को बड़ी राहत, उपार्जन नीति में हुए नए प्रावधान, ऐसे मिलेगा लाभ

बता दे कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की मंशानुरूप किसानों के खाते में लगभग 500 करोड़ रूपये की राशि का भुगतान किये जाने का लक्ष्य है। खाद्य विभाग द्वारा पहली बार किसान को समर्थन मूल्य की राशि का भुगतान सुनिश्चित करने एवं भुगतान की गई राशि को भारत सरकार के PFMS पोर्टल पर अपलोड करने के लिये उपार्जित गेहूँ का भुगतान किसानों के आधार नंबर आधारित बैंक खाते में करने की व्यवस्था की गई है।