Godse-killed-Gandhi-but-people-like-Pragya-killing-India's-soul

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना महामारी (corona pandemic) के खिलाफ महावैक्सीनेशन अभियान (Vaccination Campaign) आरंभ हो रहा है। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day) पर 21 जून से प्रदेशभर में वैक्सीनेशन का महाअभियान शुरू होगा। इसे लेकर अब शासन प्रशासन तो लोगों से सहयोग की अपील कर ही रहे हैं, समाज के विभिन्न क्षेत्रों से जुड़े लोग भी प्रेरक की भूमिका निभा रहे हैं।

MP News : वैक्सीनेशन महाअभियान की तैयारी पूरी, 7000 सेंटर्स पर लगेगी वैक्सीन

बच्चों के अधिकार के लिए संघर्ष करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता और नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी (kailash satyarthi) ने भी मध्यप्रदेश सरकार की इस मुहिम को अपना समर्थन दिया है। उन्होने कहा कि “मैं खुद विदिशा में जन्मा और पला बढ़ा हूं और इस नाते मुझे आपकी और ज्यादा चिंता है। हम सब कोरोना महामारी के संकट से गुजरे हैं और अब भी गुजर रहे हैं। यहां तक कि तीसरे दौर की आशंका भी व्यक्त की जा रही है। मैं जानता हूं कि हम सबको अपनी जान प्यारी है, हमारे परिवार के लोग प्यारे हैं, समाज के लोग प्यारे हैं। इसलिए मैं आपने निवेदन कर रहा हूं कि इस महामारी से बचने का सबसे असरदार उपाय है वो कोरोना की वैक्सीन है। आज ही लगवाइये, किसी के बहकावे में मत आईये। मध्यप्रदेश सरकार ने जो अभियान चलाया है उसमें जुटकर शामिल होईये और एक दूसरे को समझाईये कि हम सबको अपनी जिंदगी बचानी है और इस बीमारी को हराना है।”

बता दें कि शिवराज सरकार का प्रयास है कि इस अभियान में प्रदेश के अधिक से अधिक लोग वैक्सीन लगवा लें, जिससे कोरोना की संभावित तीसरी लहर से लड़ना आसान हो जाये।  सरकार की तरफ से 21 जून की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। प्रदेश में 7000 वैक्सीनेशन सेंटर्स पर वैक्सीन लगाई जाएगी। हर सेंटर पर एक प्रेरक होगा जो लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करेगा।