50 घंटे में शुरू हुआ हॉस्पिटल में ऑक्सीजन प्लांट, कई अन्य अस्पतालों में तेजी पर कार्य

प्रदेश में ऑक्सीजन की खपत लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसी स्थिति में एक तरफ जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा अन्य राज्यों से ऑक्सीजन का परिवहन किया जा रहा है। वहीं मध्यप्रदेश में भी ऑक्सीजन प्लांट लगाने पर जोर दिया जा रहा है।

रीवा, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) ने ऑक्सीजन (oxygen) की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए अन्य राज्यों से ऑक्सीजन कंटेनर का परिवहन कर रहे हैं। वहीं अब सीएम शिवराज (cm sivraj) के निर्देश अनुसार ऑक्सीजन प्लांट लगाए जाने की व्यवस्था भी की जा रही है। मध्य प्रदेश के रीवा जिले के सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल ने एक ऑक्सीजन प्लांट शुरू कर दिया है। इतना ही नहीं इन ऑक्सीजन प्लांट से 1 दिन में 100 सिलेंडर भरने का काम शुरू किया गया है।

दरअसल जिला प्रशासन इंजीनियर डॉक्टर ने मिलकर 50 घंटे में ऑक्सीजन का प्लांट तैयार किया है इतना ही नहीं जनसंपर्क संचनालय की माने तो जल्दी और ऑक्सीजन प्लांट तैयार की जाने की संभावना जताई गई है। बीते दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा था कि प्रदेश में जो भी ऑक्सीजन प्लांट लगाएगा उसे जीएसटी में छूट दी जाएगी जिसके बाद रीवा में सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में प्लांट लगाया गया है। 29 अप्रैल को टेस्टिंग के बाद यहां रिफिलिंग भी शुरू कर दी गई है।

Read More: चुनावी नतीजों से पहले ममता बनर्जी ने याद किया इन्हें, ट्वीट कर दी श्रद्धांजलि

इसके साथ-साथ प्रदेश के दो अन्य हॉस्पिटल में भी 50 सिलेंडर प्रतिदिन ऑक्सीजन भरने का प्लांट का काम शुरू किया गया है। 10 दिन के अंदर इस प्लांट से भी 50 लीटर प्रतिदिन ऑक्सीजन भरने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इसके अलावा कई औद्योगिक क्षेत्र में बड़े ऑक्सीजन प्लांट को स्थापित करने की दिशा में कदम उठाए गए हैं। प्रक्रिया को पूरा कर लिया गया है।

इस मामले में बीते दिनों चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा था कि रीवा के दो निजी अस्पताल में 1 सप्ताह में ऑक्सीजन सिलेंडर भरने के लिए प्लांट लग जाएंगे। जिसके लिए तैयारियां पूरी कर ली गई है। प्रदेश में ऑक्सीजन की खपत लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसी स्थिति में एक तरफ जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा अन्य राज्यों से ऑक्सीजन का परिवहन किया जा रहा है। वहीं मध्यप्रदेश में भी ऑक्सीजन प्लांट लगाने पर जोर दिया जा रहा है। ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए बड़े कैसे जिए जा रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा हर दिन बैठक आयोजित की जा रही है।