MP

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कैबिनेट मीटिंग (Cabinet Meeting)  के बीच आज देश के पीएम नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने ट्वीट कर मध्‍य प्रदेश (Madhya Pradesh) की तारीफ की है। पीएम मोदी ने ट्वीट कर लिखा है कि सुधारों को लागू करने में मध्य प्रदेश  की सक्रियता देखकर अच्छा लगा। इससे जहां लोगों को बहुत मदद मिलेगी, वहीं राज्य का भी तेजी से विकास होगा।इस पर मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आभार जताया है और उनके कार्यों की भी सराहना की है।

यह भी पढ़े… सरकारी कर्मचारियों को उज्जैन कलेक्टर के निर्देश- ऐसा नहीं किया तो नहीं मिलेगी सैलरी

दरअसल, आज सीएम शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chouhan) ने ट्वीट कर लिखा है कि पीएम नरेंद्र मोदी जी विज़नरी लीडर हैं, उनमें जनता की सेवा करने की ललक है और वे राष्ट्र के नवनिर्माण के लिए कुशलतापूर्वक जनहितकारी निर्णय लेते हैं।इस पर रीट्वीट करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने लिखा है कि सुधारों को लागू करने में मध्य प्रदेश की सक्रियता देखकर अच्छा लगा। इससे जहां लोगों को बहुत मदद मिलेगी, वहीं राज्य का भी तेजी से विकास होगा।

आगे शिवराज सिंह चौहान ने लिखा है कि पीएम नरेंद्र मोदी जी की दूरदर्शी पहल से नागरिकों के #EaseOfLiving में अभूतपूर्व सकारात्मक बदलाव आया।उनके द्वारा बताए गए सुधारों में से मध्यप्रदेश ने तीन सुधार पूरी तरह लागू कर दिए और चौथे सुधार का एक घटक लागू किया, जिससे 1% में से 0.90% अतिरिक्त ऋण का लाभ हमें मिला।जनता की सेवा, देशभक्ति और राष्ट्र के कल्याण की सच्ची भावना हमारे पीएम में है। उनके नेतृत्व में जो निर्णय लिए जाते हैं, तो एक ओर तो लक्ष्य की प्राप्ति होती ही है, वहीं दूसरी ओर इससे देश को भी लाभ मिलता है। ऐसा कुशल नेतृत्व पाकर हम देशवासी धन्य हैं।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: मप्र के 14 जिलों में भारी बारिश की संभावना, बिजली गिरने के भी आसार

आखरी ट्वीट में शिवराज सिंह चौहान ने लिखा है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने #COVID19 की विषम परिस्थितियों के बावजूद #AatmaNirbharBharat के निर्माण का मंत्र दिया, जो उनका जनता के कल्याण व विकास के प्रति तड़प और दूरदर्शिता दर्शाता है। #AatmaNirbharBharat पैकेज के अंतर्गत राज्यों को 2020-21 के लिए अतिरिक्त 2% जीएसडीपी की अनुमति दी गई, 1% पर आर्थिक सुधारों की शर्त जोड़ी गई थी।अतिरिक्त ऋण की सुविधा से राज्यों को जनकल्याण के कार्य करने में मदद मिली और वे देश की अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण में अधिक योगदान दे सके।