MP Politics : राहुल गांधी बोले- पसंद नहीं ऐसी भाषा, कमलनाथ ने कहा- नही मांगूंगा माफी

राहुल गांधी ने कहा कि देखिए, कमलनाथ जी मेरी पार्टी से ही हैं। लेकिन मैं निजी तौर पर इस तरह की भाषा पसंद नहीं करता हूं, जिसका इस्‍तेमाल उन्‍होंने किया है।

Kamalnath-name-offers-for-the-post-of-national-president-of-congress

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former Chief Minister Kamal Nath) के शिवराज सरकार (Shivraj Government) में महिला बाल विकास मंत्री और डबरा (Dabra) से बीजेपी प्रत्याशी इमरती देवी (Imarti Devi) को ‘आईटम’ कहने वाले विवादित बयान पर तीन बाद कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former President Of Congress Party Rahul Gandhi) ने चुप्पी तोड़ी है।

दरअसल, वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कमलनाथ के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है और कहा है कि उन्हें इस तरह की भाषा (Language) बिल्कुल पसंद नहीं है।राहुल ने कहा कि कोई भी महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार नहीं कर सकता है।आज मंगलवार (Tuesday) को एक न्यूज एजेंसी से चर्चा करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देखिए, कमलनाथ जी मेरी पार्टी से ही हैं। लेकिन मैं निजी तौर पर इस तरह की भाषा पसंद नहीं करता हूं, जिसका इस्‍तेमाल उन्‍होंने किया है। मैं इसकी सराहना नहीं करता, चाहे वह कोई भी हो। यह दुर्भाग्यपूर्ण है।राहुल गांधी ने आगे कहा कि महिलाएं हर क्षेत्र में बढ़-चढ़कर भाग ले रही हैं। हमें महिलाओं का सम्‍मान करना चाहिए। इस तरह की भाषा का महिलाओं के लिए इस्‍तेमाल मुझे कतई पसंद नहीं है।

कमलनाथ बोले- नही मांगूंगा माफी

राहुल गांधी के बयान के बाद पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने अपनी प्रतिक्रिय़ा दी है। कमलनाथ ने कहा कि वो राहुल जी की राय है। मैं क्यों माफी मांगूगा, मैंने कल कह दिया कि मेरा लक्ष्य किसी को अपमानित करने का नहीं था और अगर कोई अपमानित अहसास करता है तो मुझे खेद है।

आखिर में मध्यप्रदेश से कमलनाथ की विदाई तय- BJP

राहुल गांधी के बयान पर कमलनाथ की प्रतिक्रिया पर बीजेपी नेता डॉ हितेष वाजपेयी (Dr. Hitesh Vajpayee) ने तंज कसा है। वाजपेई का कहना है कि राहुल गांधी जी का कमलनाथ के बयान की निंदा करना और स्तरहीन मानना कमलनाथ की बंगाल वापसी पर कांग्रेस की अंतिम मोहर है। आखिर में मध्यप्रदेश से कमलनाथ की विदाई तय।

चुनाव आयोग पहुंचा मामला, इमरती देवी ने दी चेतावनी

इधर, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को पत्र लिखकर कमलनाथ के खिलाफ तत्काल कार्यवाई करते हुए उन्हें सभी पदों से मुक्त करने की मांग की है।इसके साथ ही चुनाव आयोग और राष्ट्रीय महिला आयोग ने कमल नाथ के बयान को संज्ञान में लिया है।  वहीं इमरती देवी ने कमलनाथ और अजय सिंह (ajay singh) के खिलाफ हरिजन एक्ट के तहत कार्यवाई किए जाने की मांग की है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि ऐसा नहीं हुआ तो वह अपनी जान दे देगी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here