जबलपुर, संदीप कुमार। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में कोरोना (Covid-19) से हुई मौतों को लेकर सियासत गर्माने लगी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस मौत का उत्सव मना रही है और आग लगाने की तैयारी में है। वहीं भाजपाइयों ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Former CM Kamalnath) के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई है। इधर पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के ऊपर दर्ज हुई एफआईआर पर कांग्रेस में आक्रोश पनप रहा है। पूर्व वित्त एवं स्वास्थ्य मंत्री तरुण भनोत (Former Minister Tarun Bhanot) ने भाजपा के इस कदम की कड़ी आलोचना की है। उन्होंने कहा कि मैं भी आरोप लगा रहा हूं, मेरे उपर भी एफआईआर दर्ज करवाए।

यह भी पढ़ें:-कमलनाथ का बड़ा बयान- मै चुप नहीं बैठूँगा, कोई FIR मुझे दबा नहीं सकती

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर हुई एफआईआर के विरोध में पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोत ने कहा कि देश के वरिष्ठ राजनेता जो कि 9 बार सांसद, कई विभाग में केंद्रीय मंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री सहित वर्तमान में एक संविधानिक पद नेता प्रतिपक्ष है। उनके खिलाफ भाजपा अगर मुकदमा दर्ज कराती है तो वो हंसी के पात्र बन रहे है। उन्होने कहा कि मुकादमा दर्ज करना है तो उन पर करें जिन्होंने लापरवाही की। जिसके कारण लाखों लोगों की मौते मध्यप्रदेश में हुई है।

जवाब दें प्रदेश सरकार

पूर्व वित्त मंत्री तरुण भनोत ने कहा कि सरकार बताए कि क्या लोगों के घर में मौतें नहीं हुई ह, क्या ऑक्सीजन की कमी से जान नहीं गई, क्या अस्पताल में बेड न मिलने से मौते नहीं हुई? आज सरकार की लापरवाही से कई फ्रंट लाइन वर्करों सहित आम जनता की जान गई हैं। सरकार के इस लापरवाह कदम को प्रदेश की जनता भूलेगी नहीं। आज भाजपा राजनीति करते हुए द्वेषपूर्ण तरीके से मुकदमा दर्ज करवा रही है, जिसकी जितनी निंदा की जाए कम है।