शिक्षक संघ की शिवराज सरकार से बड़ी मांग, 9वीं-11वीं परीक्षा के लिए रखा यह प्रस्ताव

शिक्षक संघ ने सरकार से मांग की है कि 55 साल उम्र के सभी शिक्षकों को कोरोना महामारी के दौरान कार्य में ना लगाया जाए।

teacher

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (madhya pradesh) में संक्रमण से हालात बिगड़ते जा रहे हैं। दिनोंदिन संक्रमण के बड़े मामले के बीच शिवराज सरकार (shivraj government) ने कोरोना वॉरियर्स(corona varriors) के लिए बड़ा फैसला किया है। जहां सेवानिर्वित हुए कोरोना वॉरियर्सको फिर से संविदा नियुक्ति दी जाएगी। हालांकि इस मामले में प्रदेश के शिक्षक भी सरकार से बड़ी मांग करते नजर आ रहे हैं। दरअसल प्रदेश के कई शिक्षक लगातार कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। जिसके बाद कई शिक्षकों की कोरोना से मौत हो गई है। वहीं शिक्षक संघ ने मध्य प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर शिक्षकों को कोरोना वॉरियर्स का दर्जा देने की मांग की है।

शिक्षक संघ ने शिवराज सरकार को पत्र लिखा है। जहां उन्होंने मांग की है कि वर्तमान में शिक्षक मूल कार्य के अलावा कोरोना महामारी में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं। लगातार बच्चों के हित और अन्य कार्य करते हुए कई शिक्षक कोरोना की चपेट में आ गए हैं। वहीं कई लोगों ने अपनी जान गवा दी है। शिक्षकों ने लगातार नगर पालिका, हॉस्पिटल, टोल नाकों, रेलवे स्टेशन के लिए टीकाकरण अभियान आदि में साथ निभाया है। बावजूद इसके शासन स्तर पर अब तक शिक्षकों को कोरोनावरियर्स के रूप में कोई राहत नहीं दी गई है।

Read More: दमोह : चुनावी गहमागहमी के बीच बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष वीडी शर्मा ने किए देवी दर्शन

शिक्षकों का कहना है कि स्वास्थ्य और पैरामेडिकल स्टाफ की तरह शिक्षक भी लगातार कोरोना वॉरियर्स के रूप में अपनी सेवा दे रहे हैं। जिसके बाद उन्हें भी कोरोना वॉरियर्स का दर्जा देकर राज्य शासन की तरफ से लाभ उपलब्ध कराए जाने चाहिए।  शिक्षक संघ ने सरकार से मांग की है कि 55 साल उम्र के सभी शिक्षकों को कोरोना महामारी के दौरान कार्य में ना लगाया जाए।। वही कोरोना से किसी शिक्षक की मौत होने पर उनके परिवारों को आर्थिक सहायता के साथ उनके पात्र या आश्रितों को अनुकंपा नियुक्ति दी जाए।

इतना ही नहीं शिक्षक संघ द्वारा पत्र में शिवराज सरकार से मांग करते हुए लिखा गया कि 9वी और 11वीं के छात्र को घर-घर कॉपी भिजवाने से संक्रमण और ज्यादा फैल सकता है जिसके बाद 9वी और 11वीं के छात्रों को जनरल प्रमोशन दे दिया जाए। बता दें कि बीते दिनों शिवराज सरकार का बड़ा फैसला लेते हुए सभी सेवानिवृत्त कोरोनावरियर्स को संविदा नियुक्ति देने की बात कही थी। इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा आदेश भी जारी कर दिए गए हैं। अब ऐसी स्थिति में शिक्षक संघ ने शिक्षकों को भी कोरोना वॉरियर्स का दर्जा देने की सरकार से बड़ी मांग कर दी है।