भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश विद्युत मंडल अभियंता संघ ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर ऊर्जा विभाग की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान खड़े किए हैं। संघ ने विभाग में आमूलचूल सुधार के लिए मुख्यमंत्री को कई सुझाव भी दिए हैं जिन पर त्वरित अमल की आवश्यकता जताई गई है।

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न तोमर को कोई गंभीर चोट नहीं, मंच से गिरने के बाद जांच रिपोर्ट सामान्य

कभी खंभे पर चढ़कर बिजली की लाइन सुधारना तो कभी झाड़ियों की कटाई करना। कभी औचक निरीक्षण के नाम पर अधिकारी-कर्मचारियों का निलंबन, ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर की यह कार्यशैली विभाग के अधिकारियों को रास नहीं आ रही। मध्य प्रदेश विद्युत मंडल अभियंता संघ के महासचिव इंजीनियर वीकेएस परिहार ने मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखा है और इस पत्र के माध्यम से उन्हें विभाग की कार्यप्रणाली सुधारने के लिए कई सुझाव दिए हैं। परिहार ने अपने पत्र में लिखा है कि मंत्री जी व्यवस्था में सुधार के लिए निरीक्षण तो कर रहे हैं लेकिन उनको समीक्षा करके उन कमियों को भी दूर करना चाहिए जो विभाग में है। ऐसा न करके वे जिस तरह से निलंबन या अन्य कार्रवाई कर रहे हैं, उससे विभाग के अधिकारी कर्मचारियों के मनोबल पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है।

इसे लेकर परिहार ने भोपाल के विद्यानगर जोन का उदाहरण दिया है जिसमें खंभे पर चढ़ी हुई झाड़ियों को मंत्री जी ने साफ़ किया और कार्यपालन यंत्री, सहायक यंत्री और उपयंत्री पर कार्यवाही के निर्देश दिये। परिहार का कहना है कि इस जोन में 187 किलोमीटर एलटी लाइन, 60 किलोमीटर एचटी लाइन, 800 ट्रांसफॉर्मर और 24000 उपभोक्ता हैं जिनके रखरखाव के लिए केवल दो नियमित और दो आउटसोर्स कर्मचारी हैं। बिना यह जाने मंत्री जी केवल कार्रवाई कर रहे हैं और भय का वातावरण बनाकर काम कराना चाहते हैं। परिहार ने पत्र में यह भी लिखा है कि पिछले 15 सालों में मध्य प्रदेश विद्युत मंडल प्रबंधक द्वारा विद्युत व्यवस्था, मीटर रीडिंग, बिलिंग बिल, वितरण या वसूली के संबंध में लगातार प्रयोग पर प्रयोग किए जा रहे हैं। बावजूद इसके हालत लगातार खराब होती जा रही है। इन सारी स्थितियों को सुधारने के लिए ब्यूरोक्रेट के स्थान पर तकनीकी विशेषज्ञों की नियुक्ति, रिक्त स्थानों को प्राथमिकता पर भरना, स्थाई कर्मियों की नियुक्ति, संसाधनों की उपलब्धता जैसे कई सुझाव परिहार ने दिए हैं।

यहां क्लिक कर देखिये पत्र-

https://mpbreakingnews.in/wp-content/uploads/2021/07/mpbreaking11152474.pdf