आपस में भिड़े मध्य प्रदेश के दो रिटायर्ड IAS ऑफिसर, ये है कारण

दो रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर बीआर नायडू और अभिजीत सिंह यादव के बीच में फार्म हाउस को लेकर बड़ा विवाद खड़ा हो गया।

IAS

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। एक तरफ मध्य प्रदेश (MP News) की शिवराज सरकार (Shivraj Government) ने कर्मचारियों और पेंशनरों को महंगाई भत्ते (7th Pay Commission) और वेतनवृद्धि की सौगात दी है, वही दूसरी तरफ दो रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर (Retired IAS officer) के बीच फार्म हाउस को विवाद खड़ा हो गया है।बात इतनी बढ़ गई है कि मामला थाने पहुंच गया है, दोनों पक्षों की तरफ से शिकायत दर्ज करवाई गई है।फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, बोनस से इतनी बढ़कर आएगी सैलरी, ये है पूरा गणित

सुत्रों के अनुसार, भोपाल के सूरज नगर में दो रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर बीआर नायडू और अभिजीत सिंह यादव के बीच में फार्म हाउस को लेकर बड़ा विवाद खड़ा हो गया। नायडू की पुत्री IPS ऑफिसर निवेदिता नायडू और उनके दामाद IPS ऑफिसर रजत सकलेचा ने पूर्व रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर सभाजीत सिंह यादव की बहू मिसेस ऐश्वर्या यादव को धमकाने की कोशिश की।

इस मामले में यादव की पत्नी शोभना यादव ने गुरुवार को रातीबड़ थाने में शिकायत दर्ज कराई है और कहा है कि एक जेसीबी मशीन चालक ने नायडू और परिवार के सदस्यों के इशारे पर (अपनी बहू को) मारने का प्रयास किया।शोभना ने इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की और अपने व परिवार को पुलिस सुरक्षा देने की मांग की।

यह भी पढ़े.. 25 अक्टूबर को सीएम शिवराज छात्रों को देंगे सौगात, खातों में राशि होगी ट्रांसफर

वही सभाजीत सिंह की बहू का कहना है कि पूर्व रिटायर्ड IAS ऑफिसर नायडू की बेटा आईपीएस ऑफिसर है और उनके बेटी IPS ऑफिसर है,  राजा जी द्वारा उनके ऊपर पिछले 9 महीने में बहुत ज्यादा मेंटली मानसिक दबाव बनाकर और पुलिस को भेजकर प्रेशर में उनके ऊपर हमला कराने की कोशिश की गई, इसको कैमरे में कैद किया गया है।इस मामले में अभी निवेदिता या उनकी फैमिली की तरफ से कोई स्टेटमेंट नहीं आया है।वही पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है।