कमलनाथ के नेमावर दौरे पर विश्वास सारंग का तंज, कहा- लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस का सबसे बड़ा काम

सारंग ने कहा की लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस का सबसे बड़ा काम है। कमलनाथ पीड़ित पोछने नहीं राजनीति करने नेमावर गए है।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। नेमावर (Nemawar) में हुए जघन्य हत्याकांड पर सभी राजनीतिक पार्टियां सियासी रोटियां सेक रही है। वहीं इसी के चलते मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) भी आज नेमावर पहुंचे। जहां उन्होंने पीड़ित आदिवासी परिवार के साथ शोक संवेदनाएं व्यक्त की। इधर कमलनाथ के इस दौरे पर प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग (Vishas Sarang) ने तंज कसा है। सारंग ने कहा की लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस का सबसे बड़ा काम है। कमलनाथ पीड़ित पोछने नहीं राजनीति करने नेमावर गए है।

यह भी पढ़ें…निकाय चुनाव से पहले शिवराज सरकार का मास्टरस्ट्रोक! कैबिनेट में लाएगी यह अध्यादेश

मीडिया से चर्चा करते हुए सारंग ने कहा कि लाशों पर राजनीति करना कांग्रेस का सबसे बड़ा काम है। कांग्रेस लगातार हर घटना को राजनीतिक रंग देने की कोशिश करते हैं। कमलनाथ को वह समय याद नहीं है जब वह मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री थे। और उनके मुख्यमंत्री निवास से सवा किलोमीटर दूर ही बच्चियों के साथ रेप हुआ था। तब कमलनाथ अपने बंगले से नहीं निकले। कांग्रेस के नेताओं को केवल और केवल किसी भी मुद्दे को राजनीतिक रंग देकर जनता को गुमराह करने की आदत हो गई है।

यह भी पढ़ें…‘चुरा के दिल मेरा 2.0’ शिल्पा शेट्टी ने शेयर किया Video

सारंग ने आगे कहा नेमावर की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। इस तरह की घटना नहीं होनी चाहिए। परंतु यह बात भी सही है कि मध्य प्रदेश की सरकार और पुलिस ने अपनी मुस्तैदी के साथ उस पूरे मामले का पर्दाफाश किया है। और जो दोषी है उन पर कड़ी और उचित कार्रवाई हो रही है । फास्ट ट्रैक के तहत उन पर मुकदमे चलाए जाएंगे और जो दोषी हैं उनकी अचल संपत्ति को जमींदोज कर दिया गया है। फिर कमलनाथ किस बात के लिए नेमावर गए हैं, केवल राजनीति करने के लिए! अगर कांग्रेस और कमलनाथ को जनता की इतनी चिंता है तो वह उन लोगों के पास भी जाएं जिन लोगों पर कांग्रेस ने अत्याचार किए हैं। उन 15 महीनों में जिनके घर कांग्रेस ने उजाड़े हैं, उनके घर भी जाएं। नेतागिरी करने से सिर्फ काम नहीं चलेगा।