कोरोना के नए वेरिएंट ने बढ़ाई चिंता, राज्य में लगेगा लॉकडाउन? सामने आया स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा बयान

इसके साथ ही नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया सार्वजनिक कार्यक्रम में लोगों की संख्या पर भी प्रतिबंध लगाए गए हैं।

लॉकडाउन
लॉकडाउन

मुंबई, डेस्क रिपोर्ट। राज्य में बढ़ रहे कोरोना (corona) मामले को लेकर एक बार फिर से स्वास्थ्य मंत्री (health minister) का बयान सामने आया है। दरअसल राज्य में तेजी से कोरोना के मामले में बढ़ोतरी देखी जा रही है। वहीँ ओमाइक्रोन (omicron) में भी वृद्धि को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश में लॉकडाउन (lockdown) लगाया जा सकता है। स्वास्थ मंत्री ने कहा कि राज्य में लॉकडाउन तभी लगेगा, जब मेडिकल ऑक्सीजन (Medical Oxygen) का दैनिक खपत 800 मीट्रिक टन तक पहुंच जाएगा।

जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र में बीते दिनों 1485 ने पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही 12 मौतें भी रिकॉर्ड की गई है। वहीं औरंगाबाद में ओमाइक्रोन वेरिएंट के 2 नए मरीज पाए गए हैं। बीएमसी ने अपने बयान में कहा है कि लोगों की जांच की जा रही है। वहीं मुंबई में 785 नए मामलों की पुष्टि हुई है।

Read More : बढ़े केस, स्कूल खुलते ही 16 छात्रों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव, परिसर को किया गया कंटेनमेंट जोन घोषित

Corona के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर रात 9:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक के लिए 5 से अधिक लोगों के इक्कठा होने पर प्रतिबंध लगा दिया है। इसके साथ ही नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया सार्वजनिक कार्यक्रम में लोगों की संख्या पर भी प्रतिबंध लगाए गए हैं। वही नए वेरिएंट ओमाइक्रोन के बढ़ते मामले को देखते हुए केंद्र ने 10 राज्य में अपनी टीम भेजी है। वहां टीम मामले की जांच करेगी।

साथ ही बढ़ रहे नए वेरिएंट के ऊपर शोध कर रिपोर्ट केंद्र सरकार को सौंपेगी। महाराष्ट्र के अलावा दिल्ली, तेलंगना, केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक और राजस्थान में भी तेजी से पूर्ण मामले में वृद्धि देखी जा रही है।  ऐसे राज्य हैं जहां Corona और नए वेरिएंट की पुष्टि के बाद केंद्र सरकार सचेत हो गई है। वही प्रतिबंध के अलावा इन राज्यों में कुछ आंशिक लॉकडाउन को संभावना बढ़ गई है।

इधर प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना मामले पर मीडिया से चर्चा के दौरान स्वास्थ्य मंत्री टोपे ने कहा राज्य में पूर्ण लॉकडाउन पर तभी विचार किया जाएगा। तब प्रतिदिन ऑक्सीजन की खपत 800 मीट्रिक टन को छू लेगी। हालांकि मंत्री द्वारा ऑक्सीजन की खपत की वर्तमान दर का उल्लेख अपने बयान में नहीं किया गया है।

हालांकि स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि महाराष्ट्र में स्थिति नियंत्रण में है उन्होंने विश्वास है कि पूर्ण लॉकडाउन की जरूरत नहीं होगी। लॉकडाउन कर लोगों को असुविधा नहीं दी जा सकती। वहीं उन्होंने कोविड दिशा निर्देशों का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए हैं। लोगों से उन्होंने मास्क पहनने सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करने की अपील की है।