Fasting Benefits: जानें व्रत रखने के अनेकों फायदे, कई बीमारियों से रहेंगे कोसो दूर

Sanjucta Pandit
Published on -

Fasting Benefits : 10 जुलाई को सावन का पहला सोमवार है। इस महीने में शिवभक्त भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए व्रत रखते हैं ताकि भगवान अपनी कृपा उनपर सदैव बनाए रखें। इस बार भक्तों को चार नहीं बल्कि आठ सोमवार मिलेंगे, जिससे वो अपने पूजा-पाठ के माध्यम से भगवान शिव को प्रसन्न कर सकते हैं तो वहीं आपको बता दें कि व्रत रखने के अनेकों फायदे हैं। इससे शरीर को भी काफी ज्यादा लाभ मिलता है। तो चलिए आज हम आपको व्रत रखने के फायदे बताते हैं…

दरअसल, मानसून एक ऐसा सीजन है जिसमें लोग जमकर फास्ट फूड आदि का सेवन करते हैं क्योंकि यह ऐसा मौसम होता है जिसमें बाकी मौसम की अपेक्षा लोग ज्यादा तली-भुनी चीजें खाते हैं। जिसके कारण वजन बढ़ने जैसी अन्य कई परेशानियां बढ़ जाती है। इससे बचने के लिए यदि सप्ताह में 1 दिन व्रत रखा जाए तो कई सारी समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है।

ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल

बता दें कि उपवास रखने से शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। कई शोधों में पाया गया है कि फास्टिंग करने से ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है। इसलिए डायबिटीज के पेशेंट को सप्ताह में एक बार व्रत जरूर करना चाहिए ताकि शुगर लेवल को आसानी से कंट्रोल किया जा सके लेकिन यदि आप इस बात का ध्यान रखें कि फास्ट 24 घंटे से अधिक का ना हो वरना ये शरीर के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है।

वजन कंट्रोल

जो लोग अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं उनके लिए व्रत रामबाण इलाज की तरह साबित हो सकता है। अधिकतर लोग उपवास के दौरान फलाहारी लेते हैं। यदि संभव हो तो फास्ट के दौरान लाइट और लिक्विड डाइट का सेवन करें। यह आपके वजन को कंट्रोल करने में मददगार साबित होगा। बता दें कि कम डाइट लोगों के बढ़ते मोटापे को रोकने में फायदेमंद होता है। इसलिए अपनी क्षमता के अनुसार, आप व्रत कर सकते हैं।

दिल से जुड़ी बीमारी

दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए भी फास्ट करना फायदेमंद साबित हो सकता है। उपवास रखने से शरीर में मौजूदा बेड कलेस्ट्रॉल कम हो जाता है। जिसके कारण रोग नहीं होते और यदि आप बीपी व शुगर जैसी समस्याएं कंट्रोल में रख सकते हैं तो दिल की समस्याओं से खुद-ब-खुद खतरा नहीं रहता और इस प्रकार आप दिल के बीमारियों से कोसों दूर रहेंगे।

इम्यूनिटी सिस्टम बढ़ाता है

व्रत रखने से इम्यूनिटी सिस्टम सही रहता है। यह आपके शरीर में रोग से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है, जिससे शरीर में होने वाले सूजन और जलन की समस्या से निजात मिल जाता है। जिससे आप स्वस्थ रहेंगे। इसलिए सप्ताह या महीने में एक बार अपनी क्षमता के अनुसार, जरुर व्रत करें।

(Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। MP Breaking News किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें।)


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News