Monkeypox: बच्चों को लिए यह वायरस अधिक खतरनाक, ICMR ने किया अलर्ट, जाने कैसे करें बचाव

कोरोना वायरस की तरह Monkeypox ने भी दुनिया भर के चिंता बढ़ा दी, धीरे-धीरे यह अब तक 21 देशों में फैल चुका है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना वायरस की तरह Monkeypox ने भी दुनिया भर के चिंता बढ़ा दी, धीरे-धीरे यह अब तक 21 देशों में फैल चुका है। विश्व स्वास्थ संगठन के मुताबिक अब तक दुनिया में इसके 200 से अधिक मामले आ चुके हैं। इसी चिंता में इंडियन काउन्सिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने लोगों को सावधान भी किया है। हालांकि अब तक भारत में इस वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया लेकिन इसे लेकर अलर्ट कर दिया और भारत इससे लड़ने की तैयारियां भी कर रहा।

यह भी पढ़े… Monkeypox : भारतीय कंपनी ने वायरस का पता लगाने बनाई RT-PCR किट

हेल्थ विशेषज्ञों के मुताबिक यह संक्रमण जानवरों के काटने से फैलता है। यह खून और प्लाजमा से के संपर्क में आने से भी फैल सकता है। यूरोप और अमेरिका में मंकीपॉक्स के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। बता दें की मंकीपॉक्स की जांच के लिए RT-PCR टेस्ट किट भी आ चुकी है। ICMR ने कहा है की यह वायरस बच्चों के लिए संवेदनशील। वहीं बच्चों में इसके लक्षण की बात करें तो इसके ज्यादातर लक्षण चेचक की तरह है। इस वायरस के फैलने पर शरीर में दाने निकल आते हैं और बुखार के लक्षण भी होते हैं। इस बीमारी में बच्चों को बुखार, कमर में दर्द, सिरदर्द और ठंड लगने की समस्या होती है। इसके अलावा शरीर पर लाल रंग के चकते रैशेज होते हैं और स्किन में फटने की दिक्कत भी दिख सकती है।

यह भी पढ़े… Viral Video: आखिर किस खुशी में डायट भी भूल गए आमिर खान, गोलगप्पे का मजा उठाते आए नजर, जाने

ऐसे करें बचाव
  • जंगली जानवरों से दूर रहे। किसी भी मरे हुए जानवरों और उनके माँस और खून से भी दूरी रखे।
  • किसी भी ऐसी चीज के संपर्क में ना आए जो संक्रमित जानवरों से जुड़ी हो।
  • मांस को खाने से पहले अच्छी तरह से जरूर पकाये।
  • खाने से पहले हाथों को अच्छे से साबुन से धोए।
  • संक्रमित मरीजों से दूरी रखें।