SSC GD Constable 2024: एसएससी जीडी कॉन्स्टेबल का रिजल्ट घोषित, ऐसे करें चेक, कट-ऑफ भी जारी, जानें डिटेल

एसएससी जीडी कॉन्स्टेबल लिखित परीक्षा का परिणाम जारी हो चुका है। 6 लाख से अधिक उम्मीदवारों का चयन हुआ है।

Manisha Kumari Pandey
Published on -
ssc

SSC GD Constable 2024: कर्मचारी चयन आयोग ने एसएससी जीडी कॉन्स्टेबल का परिणाम 10 जुलाई को घोषित कर दिया है। रिजल्ट मेरिट लिस्ट के रूप में जारी किया गया है। फाइनल आन्सर-की और कट-ऑफ भी जारी हो चुके हैं। उम्मीदवार ऑफिशियल वेबसाइट https://ssc.gov.in/ पर जाकर अपना स्कोर चेक कर सकते हैं। बता दें कि परीक्षा का आयोजन 20 फरवरी से 7 मार्च और 30 मार्च को हुआ था।

मेरिट लिस्ट जारी, इतने उम्मीदवार चयनित

मेरिट लिस्ट में चयनित उम्मीदवारों के नाम और रोल नंबर दिए गए हैं। कुल 6,91,304 उम्मीदवाररो का चयन हुआ है। जिसमें से महिला उम्मीदवारों की संख्या 38328 और पुरुष उम्मीदवारों की संख्या 3,08, 076 है। आयोग ने लिखित परीक्षा में चयनित पुरुष और महिला दोनों उम्मीदवारों के लिए अलग-अलग मेरिट लिस्ट जारी की है।

ऐसे डाउनलोड करें स्कोरकार्ड

स्टाफ सिलेक्शन कमीशन के पुराने ऑफ़िशियल वेबसाइट https://ssc.nic.in/ पर एसएससी जीडी कॉन्स्टेबल परीक्षा का स्कोरकार्ड 10 जुलाई से 24 जुलाई तक उपबद्ध रहेगा। जिसे उम्मीदवार डाउनलोड कर पाएंगे। इसके लिए “Result” टैब पर जाकर यूजरनेम और पासवर्ड करके लॉग इन करने की जरूरत पड़ेगी। स्कोरकार्ड के लिए डायरेक्ट लिंक- https://ssc.nic.in/Portal/GetMarksStatus

रिस्पॉन्स शीट और आन्सर-की 24 जुलाई तक उपलब्ध

आन्सर-की और रिस्पॉन्स शीट भी जारी हो चुका है। यह भी 24 जुलाई तक वेबसाइट पर उपलब्ध होगा। उत्तर कुंजी का लिंक नई वेबसाइट पर एक्टिव है। उम्मीदवार रोल नंबर और पासवर्ड दर्ज करने अंतिम उत्तर कुंजी प्रश्न पत्र यानि रिस्पॉन्स शीट के साथ देख सकते हैं।

एसएससी जीडी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा के तहत उम्मीदवारों की भर्ती सीएपीएफ, सीएसआईएफ, सीआरपीएफ, बीएसएफ़, आईटीबीपी, एसएसबी और एसएसएफ में कॉन्स्टेबल पद पर होगी। वहीं असम राइफल्स में राइफलमैन (जीडी) पद पर भर्ती होगी। परीक्षा से संबंधित कटऑफ भी जारी हो चुके हैं। चयनित उम्मीदवारों को PST/PET परीक्षा के लिए आमंत्रित किया जाएगा।

ये रहा कटऑफ मार्क्स नोटिस 

ssc gd constable result

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News