Mango: फेंकने से पहले रुकें, जानें आम की गुठली के 2 कमाल के उपयोग

Mango: अक्सर हम आम का स्वादिष्ट गूदा खाकर उसकी गुठली को कूड़ेदान में फेंक देते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह गुठली दरअसल कई औषधीय और घरेलू गुणों से भरपूर होती है? जी हाँ, आपने बिल्कुल सही सुना! आम की गुठली कचरे का ढेर नहीं, बल्कि खजाने का भंडार है। इस लेख में, हम आपको आम की गुठली के अद्भुत फायदों के बारे में बताएंगे और यह भी बताएंगे कि आप इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं।

भावना चौबे
Published on -
aam ki guthli

Mango: गर्मियों का मौसम आते ही बाजारों में हर तरफ आमों की भरमार दिखाई देने लगती है। मीठे और रसीले आमों का स्वाद हर किसी को पसंद होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आम की गुठली जिसे हम अक्सर कचरे में फेंक देते हैं, दरअसल कई औषधीय और घरेलू गुणों से भरपूर होती है? जी हां , आपने बिल्कुल सही सुना, आम की गुठली कचरे का ढेर नहीं, बल्कि खजाने का भंडार है। इसमें मौजूद फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और खनिज कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करने में मददगार होते हैं। आम की गुठली का उपयोग पाचन क्रिया में सुधार, त्वचा और बालों को स्वस्थ रखने, वजन घटाने, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और दर्द व सूजन को कम करने के लिए किया जा सकता है, तो अगली बार जब आप आम खाएं, तो उसकी गुठली को फेंकने की बजाय इन तरीकों से इसका उपयोग करके अपने स्वास्थ्य और सौंदर्य को निखारें। आप आम की गुठली का उपयोग कैसे करते हैं?

कैसे सुखाएं आम की गुठली

सबसे पहले, आम की गुठलियों को अच्छी तरह धो लें। इससे गूदा और रेशे हट जाएंगे। गुठलियों को धूप में 2-3 दिन तक फैलाकर रखें। ध्यान दें कि गुठलियां एक दूसरे के ऊपर न हों, ताकि अच्छी तरह से हवा लग सके। हर दिन गुठलियों को पलटते रहें। इससे वे समान रूप से सूखेंगी। गुठलियां पूरी तरह सूखने में 2-3 दिन लग सकते हैं। वे हल्की और भूरी हो जाएंगी। सूखने के बाद, गुठलियों को किसी हवादार कंटेनर में स्टोर करें।

सुखी हुई आम की गुठली का कैसे करें इस्तेमाल

सजावट के लिए करें इस्तेमाल

सबसे पहले आम की गुठलियों को अच्छी तरह धोकर सुखा लें। अपनी पसंद का रंग चुनकर गुठलियों को रंग दें। आप एक ही रंग या कई रंगों का इस्तेमाल कर सकते हैं। अपनी पसंद के अनुसार कागज से फूल बना लें। आप चाहें तो बाजार से भी फूल खरीद सकते हैं। सूखने के बाद, गोंद लगाकर फूलों को गुठली पर चिपका दें। आप अपनी रचनात्मकता दिखाते हुए अलग-अलग तरह के डिजाइन बना सकते हैं। छोटे टुकड़ों में कटी हुई लकड़ी की टहनियों को गुठली के नीचे गोंद लगाकर चिपका दें, जिससे जड़ें बन जाएं। अब आप अपनी कलाकृति को फ्रेम में लगाकर दीवार पर टांग सकते हैं या टेबल या शेल्फ पर रख सकते हैं।

जिद्दी रंग निकालने के लिए

घर की रंगाई के दौरान अक्सर दीवारों, दरवाजों और खिड़कियों से गिरकर पेंट की बूंदे टाइल्स पर लग जाती हैं। ये दाग हटाना मुश्किल हो सकता है और डंडे वाले पोछे या ब्रश से रगड़ने से ब्रश भी खराब हो सकता है। लेकिन चिंता न करें, आम की गुठली इस समस्या का आसान और कारगर समाधान है। सबसे पहले, दाग वाले हिस्से को थोड़ा पानी से गीला कर लें। अब, सूखी हुई आम की गुठली को दाग पर रगड़ें। आप देखेंगे कि पेंट आसानी से उतरने लगेगा। अंत में, पानी से धोकर टाइल्स को साफ कर लें।

(Disclaimer- यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं के आधार पर बताई गई है। MP Breaking News इसकी पुष्टि नहीं करता।)


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News