Indoor Plants: मानसून में घर पर जरूर लगाएं ये 5 इनडोर प्लांट्स, कोना-कोना रहेगा हरा-भरा

Indoor Plants: आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में प्रकृति से जुड़ाव कम होता जा रहा है। शहरों के सीमित दायरे में रहते हुए, हरे-भरे वातावरण का आनंद लेना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में, घर में वाटर इंडोर प्लांट्स उगाना एक बेहतरीन विकल्प हो सकता है।

gardening tips

Indoor Plants: घर में वाटर इंडोर प्लांट्स उगाना न केवल आपके घर को हरा-भरा बनाता है, बल्कि यह आपके आसपास के वातावरण को भी ताजगी से भर देता है। ये पौधे मिट्टी की बजाय पानी में उगते हैं, जिससे इनकी देखभाल करना आसान होता है और इन्हें कम रोशनी वाली जगहों पर भी रखा जा सकता है। यहां 5 लोकप्रिय वाटर इंडोर प्लांट्स और उन्हें उगाने के तरीके दिए गए हैं।

5 इनडोर वाटर प्लांट्स जो बनाएंगे हरियाली का कोना

मनी प्लांट (Money Plant)

यह सबसे लोकप्रिय इंडोर पौधों में से एक है, जो कम रोशनी में भी पनप सकता है और इसकी देखभाल बहुत आसान है। इसे पानी के जार या बोतल में रखा जा सकता है, और इसकी जड़ें पानी में ही फैल जाती हैं। मनी प्लांट हवा को शुद्ध करने में भी मदद करता है।

ज़ेबरा कैक्टस (Zebra Cactus)

यह अनोखा दिखने वाला कैक्टस कम रोशनी और कम पानी में भी जीवित रह सकता है। इसकी पत्तियों पर काली धारियां होती हैं जो इसे ज़ेबरा जैसा दिखाती हैं। इसे किसी भी कांच के बर्तन में पानी के साथ रखा जा सकता है।

एयर प्लांट (Air Plant)

इस पौधे को मिट्टी की आवश्यकता नहीं होती है, इसलिए इसे कहीं भी लटकाया जा सकता है। यह हवा से नमी और पोषक तत्वों को अवशोषित करता है। इसे सप्ताह में एक बार पानी से धोकर नम रखा जा सकता है।

लकी बैम्बू (Lucky Bamboo)

यह एक लोकप्रिय फेंग शुई प्लांट है जो सौभाग्य और समृद्धि लाने के लिए माना जाता है। इसे किसी भी कांच के बर्तन में पानी के साथ रखा जा सकता है, और इसकी पत्तियां विभिन्न आकारों में उगाई जा सकती हैं।

पीस लिली (Peace Lily)

यह खूबसूरत फूल वाला पौधा कम रोशनी में भी पनप सकता है और इसकी देखभाल करना भी आसान है। जब इसे पानी की आवश्यकता होती है तो इसकी पत्तियां झुक जाती हैं। इसे किसी भी कांच के बर्तन में पानी के साथ रखा जा सकता है।

(Disclaimer- यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं के आधार पर बताई गई है। MP Breaking News इसकी पुष्टि नहीं करता।)


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News