आजाद-जयंती पर रोटरी क्लब अलीराजपुर के तत्वावधान में रक्तदान शिविर हुआ सम्पन्न

अलीराजपुर (Alirajpur) में स्थानीय रोटरी क्लब इन्टरनेशनल के तत्वावधान मे शहिद चन्द्रशेखर आजाद की जयंती के पुनित अवसर पर विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया।

अलीराजपुर, यतेन्द्रसिंह सोलंकी। अलीराजपुर (Alirajpur) में स्थानीय रोटरी क्लब इन्टरनेशनल के तत्वावधान मे शहिद चन्द्रशेखर आजाद की जयंती के पुनित अवसर पर विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। स्थानीय बस स्टैंड पर क्षेत्रीय विधायक मुकेश पटेल के मुख्य आतिथ्य में नगर पालिका अध्यक्ष रितेश डावर की अध्यक्षता कार्य सम्पन्न हुआ। आगंतुक अतिथियों के द्वारा आजाद के चित्र पर माल्यार्पण कर ,एवं डाक्टरो का स्वागत कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया।

यह भी पढ़ें…किस ऐप पर डालता था राज कुंद्रा अपनी अश्लील फिल्में, अरबों की कमाई

उल्लेखनीय है की रोटरी इन्टरनेशनल रोटरी क्लबों का संगठन है। यह व्यापार और पेशेवर लोगों का विश्वव्यापी संगठन है, जो मानवीय सेवा, सभी व्यवसायों में उच्च नैतिक स्तर को बढ़ावा देने और दुनिया में शांति और सद्भावना के निर्माण में सहायता देने हेतु विश्वव्यापी रुप से एकजुट होकर कार्यरत है। विश्व भर में फैले असंख्य स्थानीय रोट‌री क्लब “रोट‌री इन्टरनेशनल” संस्था के आधार स्तंभ है। 163 देशों में 32,000 से अधिक रोटरी क्लब हैं, जिसमें 13 लाख से अधिक लोग सदस्य हैं। यह पंथनिरपेक्ष (सेक्युलर) संगठन है जो जाति, लिंग, वर्ण या राजनैतिक विचारधारा के भेदभाव के बिना सबको सदस्य बनाती है। रोट‌री के सदस्यों को रोटेरियंस कहा जाता है। रोटेरियंस, स्थानीय रोटरी क्लब के सदस्य होते है और उनके क्लब द्वारा निर्धारित समय पर, हर हफ्ते में एक बार मिलते हैं (अभी हाल ही में इसमें कुछ छूटें दी गयी हैं)। रोटेरियन्स पहनी हुई लेपल-पिन के द्वारा आसानी से पहचाने जाते हैं। रोटरी-व्हील, रोटरी इंटरनेशनल का आधिकारिक लोगो है।

रोटरी का आदर्श वाक्य है, “Service Above Self” यानि सेवा स्वयं से पहले, अर्थात् सेवा ही सर्वोपरि है। यह वाक्य भले ही सामान्यजनों को बस ‘आदर्श’ ही लगे, ‘यथार्थ’ यानि Practical न लगे, किन्तु रोटरीजन इसकी व्याख्या इस प्रकार करते हैं: यह सच है कि बिना प्रतिफल (फायदा) के कार्य करना मुश्किल है, किन्तु महत्त्व इस भावना का है कि सेवा के बदले प्रतिफल मिला, या प्रतिफल के लिए सेवा की गई। प्रतिफल मिलेगा या नहीं मिलेगा, इसकी परवाह किये बिना जो भी कार्य किया जाये, वही रोटरी सेवा है।

गौरतलब है कि रोटरी-क्लब आलीराजपुर की स्थापना अलीराजपुर के साथियों ने 11 फरवारी 2021 को जी जिसका चार्टेड अलाउंस दिनांक-19 अप्रैल 2021 को हुई। हैरोटरी दुनिया का सबसे पहला “सेवा संगठन” है। व्यापार और पेशेवर लोगों का विश्वव्यापी संगठन है, जो मानवीय सेवा, सभी व्यवसायों में उच्च नैतिक स्तर को बढ़ावा देने और दुनिया में शांति और सद्भावना के निर्माण में सहायता देने हेतु विश्वव्यापी रुप से एकजुट होकर कार्यरत है। विश्व भर में फैले असंख्य स्थानीय रोट‌री क्लब “रोट‌री इन्टरनेशनल” संस्था के आधार स्तंभ है। 163 देशों में 32,000 से अधिक रोटरी क्लब हैं, जिसमें 13 लाख से अधिक लोग सदस्य हैं। यह पंथनिरपेक्ष (सेक्युलर) संगठन है जो जाति, लिंग, वर्ण या राजनैतिक विचारधारा के भेदभाव के बिना सबको सदस्य बनाती है।

रक्तदान शिविर के डायरेक्टर रोटरियन्श डाॅ. सचिनजी पाटीदार के नेतृत्व मे एवं रक्तदान कैंप के स्टाॅप के सराहनीय सहयोग से आयोजन सम्पन्न हुआ।रोटरियन साथीयो के साथ ही शहर के गणमान्य नागरिकों ने अपने रक्त का दान कर इस पुनित यज्ञ मे अपना सहयोग दिया। आयोजन में रोटरियन्श साथी अरविंद गहलोद, हेमन्त सिसोदियो,श्रीमती जयश्री गहलोद,सुश्री प्रिती डावर, अनुप सोमानी, चीतल पंवार, राजेन्द्रसिहं(गुड्डू) राठौर, मंसुर मर्चेंट, मनोज राठोड़, बिरज परमार,नवीन सिंह, विमल राठोर,वालेन्टीयर धीरज वर्मा का सहयोग रहा। आगंतुक अतिथियों का ,समस्त रक्तदान दाताओ का आभार व्यक्त करते हुए संस्था के अध्यक्ष रोटरियन सोनु वर्मा एवं सचिव वर्षा परिहार ने बताया की अंतर्राष्ट्रीय संस्था होने के नाते रोटरी क्लब अब समय-समय पर सेवा कार्य के आयोजन निरंतर करते रहेगा। आज सब के सहयोग से 21 यूनिटब्लड कलेक्ट हुआ जो सीधे जिला चिकित्सालय को उपलब्ध हुआ।

आजाद-जयंती पर रोटरी क्लब अलीराजपुर के तत्वावधान में रक्तदान शिविर हुआ सम्पन्न

यह भी पढ़ें…आईजी सागर ने किया वार्षिक निरीक्षण, पुलिस लाइन में पहुंचकर बलवा प्रदर्शन भी देखा