Suspend: अलीराजपुर कलेक्टर के बाद SDM का एक्शन- लापरवाही पर रीडर निलंबित

किसानों की शिकायत पर जांच हुई तो फाइल गायब मिली। इसके बाद  एसडीएम (SDM) सरोधन सिंह ने रीडर को उसके पद से निलंबित कर दिया है।

Suspended

अलीराजपुर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के अलीराजपुर (Alirajpur) में एक बार फिर शासकीय कामों में लापरवाही बरतने पर कड़ी कार्रवाई की गई है।एसडीएम (Alirajpur SDM) सरोधन सिंह कोतमा एसडीएम कार्यालय के रीडर (Kotma SDM Office Reader)  विवेकानन्द श्रीवास्तव को निलंबित (suspended ) कर दिया है।इस कार्यवाही के बाद कार्यालय में हड़कंप मच गया है।

यह भी पढ़े..Ratlam News : SDM को कांग्रेस विधायक की सरेआम धमकी, अगर आप महिला नहीं होती तो कॉलर पकड़ कर ज्ञापन देता

मिली जानकारी के अनुसार, मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले के कोतमा एसडीएम कार्यालय के रीडर विवेकानन्द श्रीवास्तव को निलम्बित कर दिया गया है। राष्ट्रीय राजमार्ग 43 (NH-43) कटनी-गुमला के निर्माण के लिए 4 वर्ष पूर्व 31 किसानों (Farmers) की भूमि ली गई थी। वर्ष 2018 में भुगतान के लिए केन्द्र सरकार (Central Government) से 2 करोड़ 21 लाख रूपए आ भी गए, किन्तु मुआवजा नहीं मिला। किसानों की शिकायत पर जांच हुई तो फाइल गायब मिली। इसके बाद  एसडीएम (SDM) सरोधन सिंह ने रीडर को उसके पद से निलंबित कर दिया है।

यह भी पढ़े..MP के किसानों के लिए बड़ी खबर, अब तहसीलदार को यह जानकारी देना अनिवार्य

बता दे कि अलीराजपुर में यह पहला मौका नहीं है जब सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों (Government official employees) पर कार्रवाई की गई हो।इसके पहले अलीराजपुर कलेक्टर (Alirajpur Collector)  सुरभि गुप्ता (IAS Surabhi Gupta) ने पीआईयू के कार्यपालन यंत्री और अलीराजपुर सीएमओ  (Alirajpur CMO) का 15-15 दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए थे। वही कार्यपालन यंत्री को निलंबित करने का प्रस्ताव भी आयुक्त को भेजा था।