केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह के कार्यक्रम में एक हजार पुलिसकर्मी होंगे तैनात, ड्रोन से रखी जायेगी नजर

Avatar
Published on -

BALAGHAT NEWS : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल के 9 वर्ष पूरे होने पर भाजपा के विशेष जनसंपर्क अभियान के तहत आगामी 22 जून को केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह का बालाघाट आगमन होना है। यहां वे अपरान्ह 4 बजे बालाघाट पहुंचेंगे।

अलर्ट मोड पर 
केन्द्रीय गृहमंत्री के आगमन को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन द्वारा व्यवस्था और सुरक्षा को लगातार कार्यक्रम स्थल का जायजा लिया जा रहा है। प्रशासन और पुलिस को मिले केन्द्रीय मंत्री अमित शाह के शेड्यूल के अनुसार जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन ने उनके पुलिस लाईन स्थित हेलीपेड से कार्यक्रम स्थल तक पहुंचने वाले मार्ग का मंगलवार को पूरा निरीक्षण किया।

तैयारियां दुरुस्त 
22 मई को बालाघाट आ रहे अमित शाह काली पुतली चौक स्थित हनुमान मंदिर भी जायेंगे, जहां वे पूजा-अर्चना करेंगे। जिसको लेकर भी मंगलवार को प्रशासनिक अमले ने हनुमान मंदिर का निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा, पुलिस अधीक्षक समीर सौरभ, एसडीएम गोपाल सोनी, भाजपा अध्यक्ष सत्यनारायण अग्रवाल, पूर्व अध्यक्ष रमेश भटेरे, कार्यक्रम प्रभारी अभिलाष पांडे, सीएसपी अंजुल अयंक मिश्रा सहित प्रशासनिक एवं पुलिस अमला एवं भाजपा पदाधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर डॉ. गिरीश कुमार मिश्रा ने बताया कि केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह के 4 बजे पुलिस परेड ग्राउंड में बने हेलीपेड में आयेंगे। यहां से वह कार्यक्रम स्थल पर जायेंगे। जिसके बाद मंदिर मंे भगवान हनुमान की पूजा अर्चना करने पहुंचेंगे। उनकी सुरक्षा दृष्टि से सभी इंतजाम कर लिये गये है। सेक्टर मजिस्ट्रेट को नियुक्त कर दिया गया है। एएलएस सर्वे में रूट की स्कूटनी, सेनेटाईज, बेरिकेटिंग और कारगेट की प्लानिंग की जा रही है। साथ ही साथ उनके हेल्थ से रिलेटेड या सुरक्षा प्रोटोकॉल को लेकर सभी व्यवस्था पूरी हो गई है। चूंकि कार्यक्रम पार्टी स्तर पर है, जिससे संभावना है कि चालीस से पचार हजार लोगों की भीड़ जुट सकती है। जगह-जगह स्वागत का कार्यक्रम है, चूंकि पब्लिक रोड के आसपास रहेगी, जिसके लिए सुरक्षा के इंतजाम किये गये है।

एक्स्ट्रा अलर्ट 
सुरक्षा को लेकर समीर सौरभ ने बताया कि केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह का 22 जून को बालाघाट आगमन हो रहा है। चूंकि बालाघाट एक नक्सल एंगल से संवेदनशील जिला है और पिछले एक वर्ष में नक्सल उन्मूलन में हमें जो सफलता मिली है। उसे ध्यान में रखते हुए हम एक्स्ट्रा अलर्ट में है। पर्याप्त बल अलग-अलग जिलो से बालाघाट आ रहा है। वरिष्ठ अधिकारी भी पहुंच रहे है। जंगल में एरिया डॉमिनेशन और जंगल में होने वाली कार्यवाही करवाई जा रही हैं। सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किये गये है। पुलिस मैदान से लेकर कार्यक्रम स्थल तक ड्रोन से निगरानी रखी जायेगी। एक हजार से ज्यादा जवान हेलीपेड, मार्ग स्थल और कार्यक्रम स्थल पर लगाये जायेंगे। जिले में सागर, जबलपुर, सिवनी, मंडला, डिंडौरी सहित सात-आठ जिलो का बल बालाघाट आ रहा है। इस दौरान शहर में पार्किंग और कौन-कौन से मार्ग बंद किये जायेंगे,यह जानकारी प्रेस के माध्यम से जारी कर दी जायेगी। डीजी साहब का अभी काई फिक्स प्लान नहीं है, वह आज या कल भी आ सकते है उनके द्वारा व्यवस्था को लेकर उनके जैसे निर्देश होंगे, यदि वह कोई स्पेसफिक पाईंट बताते है तो उसका भी फॉलोअप किया जायेगा।

बालाघाट से सुनील कोरे की रिपोर्ट 


About Author
Avatar

Sushma Bhardwaj

Other Latest News