Balaghat: पुलिस ने 21 किलो गांजे के साथ 2 तस्करों को पकड़ा

पुलिस आरोपियों से मिली जानकारी के आधार पर बैहर और बालाघाट के अवैध मादक पदार्थ गांजा का विक्रय करने वाले नेटवर्क की तलाश में जुटी है, पुलिस का कहना है कि जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार किया जायेगा।

बालाघाट, सुनील कोरे। बालाघाट (Balaghat) में भरवेली पुलिस ने 2 गांजा तस्करों (hemp smugglers) को पकड़ने सफलता मिली है। वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में मुखबिर की सूचना पर बैहर से गांजा लेकर आ रहे दो आरोपियों बैहर चालीस मकान निवासी 36 वर्षीय राशिद कमाल खान और 32 वर्षीय जॉनी उर्फ वसीम खान से लगभग 2 लाख रूपये का 21 किलो 4 सौ ग्राम गांजा (hemp) बरामद किया है।

यह भी पढ़ें…Chhindwara : उफनते नाले में फंसी राज्य मंत्री की कार, फिर हुआ ये…

पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट (NDPS Act) की धारा 8/20 के तहत मामला कायम कर विधिवत गिरफ्तार किया। जिनसे प्रारंभिक पूछताछ में पुलिस को पता चला कि दोनो ही आरोपियों को बैहर में किसी ने गांजा दिया था। जो उसे लेकर बालाघाट में किसी को गांजा देने आ रहे थे। इस दौरान ही पुलिस ने उन्हंे पकड़ लिया। अब पुलिस आरोपियों से मिली जानकारी के आधार पर बैहर और बालाघाट के अवैध मादक पदार्थ गांजा का विक्रय करने वाले नेटवर्क की तलाश में जुटी है, पुलिस का कहना है कि जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार किया जायेगा।

जिले में अवैध मादक पदार्थ को लेकर पुलिस अधीक्षक अभिषेक द्वारा दिये गये निर्देश पर चलाये जा रहे अभियान के तहत भरवेली पुलिस ने एडीएसपी और सीएसपी के मार्गदर्शन में मुखबिर की सूचना पर बैहर की ओर से आ रही मोटर सायकिल क्रमांक सीजी 07 एलएन 0396 को धनसुआ सांई मंदिर के समाने नाकाबंदी कर रोका, लेकिन पुलिस को देखकर दोनो ही मोटर सायकिल लेकर भागने का प्रयास किया, तभी नाकेबंदी में जुटी पुलिस ने दोनो को पकड़ा। जिनके पास रखे लाल रंग के बैग की तलाशी लेने पर डंठल युक्त मादक पदार्थ गांजा मिला। जिसके बाद पुलिस ने दोनो ही आरोपियों को पकड़कर गांजा और मोटर सायकिल बरामद कर उन्हें थाने लाया। जहां उनके खिलाफ प्रकरण कायम कर उन्हें विधिवत गिरफ्तार किया।

बस संचालक रह चुका है राशिद कमाल खान
पुलिस से मिली जानकारी अनुसार गांजा तस्करी मामले में पकड़ाया गया आरोपी बैहर चालीस मकान निवासी राशिद कमाल खान, बस संचालक था, लेकिन बीते कोरोना काल में लगाये गये लॉकडाउन के चलते बसों का परिवहन नहीं होने से उसकी बस सीज हो जाने से वह बेरोजगार हो गया था। जिसके चलते उसने रूपयो के लिए अपने साथी के साथ गांजा तस्करी कर रहा था, लेकिन पकड़ा गया।

भरवेली थाना प्रभारी नीरज कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि बैहर से गांजा लेकर आ रहे आरोपियों के बारे में मुखबिर से सूचना मिली थी। जिसके बाद वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपियों को अवैध मादक पदार्थ गांजा के साथ पकड़ा है। जिसकी अनुमानित कीमत लगभग 2 लाख रूपये है। मामले में आरोपियों से पूछताछ में और भी जानकारी मिली है। जिससे इस मामले में आगामी समय में और भी आरोपी गिरफ्तार हो सकते है। मामले की विवेचना जारी है।

यह भी पढ़ें… Shivpuri : नदी किनारे दो नर कंकाल मिलने से क्षेत्र में दहशत, पुलिस मामले की जांच में जुटी