बुजुर्ग महिला की हत्या, सिर पर पत्थर से हमला कर उतारा मौत के घाट

मृतक महिला का एक बेटा पटवारी तो दूसरा विद्युत विभाग में अधिकारी, घर में अकेली रहती थी

बालाघाट,सुनील कोरे। बालाघाट के रामपायली इलाके में थाने से कुछ दूरी पर ही घर में अकेली 55 वर्षीय महिला की बीती रात किसी अज्ञात हमलावर ने सिर पर हमला कर निर्मम हत्या कर दी। जब शनिवार को महिला सुबह से दोपहर तक दिखाई नहीं दी तो रिश्तेदार और आसपास के कुछ लोगों ने घर जाकर देखा तो घर के बेड पर महिला का रक्तरंजित शव पड़ा था। जिसके सिर के आसपास खून बिखरा पड़ा था और महिला मृत हालत में पड़ी थी। जिसकी तत्काल जानकारी रामपायली पुलिस को दी गई। घटना की जानकारी मिलते ही वारासिवनी एसडीओपी अरविंद कुमार श्रीवास्तव, थाना प्रभारी एसआई योगेंद्र सिंह चौहान एवं कार्यवाहक निरीक्षक सुनील बनो सहित एफएसएल की टीम ने घटनास्थल पर पहुंची। जिसके बाद पुलिस ने शव बरामद कर उसे पीएम के लिए भिजवा दिया है।

थाने से महज 200 मीटर की दूरी पर घर में अकेली महिला की हत्या से पूरे रामपायली में सनसनी का माहौल है। वहीं पुलिस सुरक्षा को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे है। लोग डरे हुए है, पुलिस थाने से महज कुछ दूरी पर हुए इस हत्याकांड ने पुलिस के सामने भी चुनौती खड़ी कर दी है। बताया जा रहा है कि नंबर 3 में जहां महिला निवासरत थी, वहीं पास में शिव का मंदिर है और सावन मास के चलते बीती रात लगभग 10 बजे तक यहां भजन, कीर्तन का धार्मिक आयोजन जारी था और महिला लगभग रात 9.30 बजे तक देखी गई है।

बताया जाता है कि महिला घर में अकेली रहती थी। जिनके पति का स्वर्गवास हो गया है और दो पुत्र वारासिवनी और बैतूल में रहते है। जहां एक पुत्र क्षेत्र अंतर्गत सिंगोड़ी में पटवारी है, वहीं दूसरे पुत्र विद्युत विभाग में बड़े पद पर पदस्थ है। हालांकि महिला की हत्या क्यों, किसने और किसके लिए की ,यह अभी सवाल अनसुलझा है, जिसके जवाब पुलिस भी तलाश कर रही है।