बड़वानी : नाथ संप्रदाय के आश्रम में इस बड़े महंत ने लगाई फांसी, जांच में जुटी पुलिस

बड़वानी (Barwani) जिले के पानसेमल क्षेत्र के नाथ संप्रदाय के प्रमुख आश्रम से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि आश्रम के एक महान श्रावण नाथ जी द्वारा आत्महत्या की गई है।

indore

बड़वानी, डेस्क रिपोर्ट। बड़वानी (Barwani) जिले के पानसेमल क्षेत्र के नाथ संप्रदाय के प्रमुख आश्रम से जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि आश्रम के एक महान श्रावण नाथ जी द्वारा आत्महत्या की गई है। दरअसल उन्होंने शुक्रवार देर शाम को अपने कक्ष में फांसी लगाकर आत्म हत्या को अंजाम दिया। हालांकि अभी तक उन्होंने आत्महत्या क्यों की है, इसके बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है। पुलिस इस मामले में लगातार जांच में जुटी हुई है।

Must Read : हायर एजुकेशन सिस्टम में बड़े बदलाव की तैयारी, कमेटी गठित, AICTE-UGC इस तरह करेंगे कार्य

जानकारी के मुताबिक जैसे ही महान द्वारा किए गए सुसाइड की खबर लोगों तक पहुंची तो आश्रम के आसपास लोग एकत्रित हो गए, वहीं मौके पर ही एसपी दीपक कुमार शुक्ला भी आश्रम पहुंचे एसपी दीपक कुमार शुक्ला के मुताबिक नाथ संप्रदाय का यह आश्रम है। आश्रम में 52 वर्षीय एक महान श्रावण नाथ जी जिन्हें उर्फ उड़ी बाबा भी कहा जाता है।

उन्होंने शुक्रवार को देर शाम फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है। अभी तक आत्महत्या क्यों की गई। इसका कोई खुलासा नहीं हुआ है। लगातार पुलिस द्वारा इस मामले को लेकर छानबीन की जा रही है। बता दें मध्यप्रदेश में महाराष्ट्र में महंत के बड़ी संख्या में भक्त मौजूद है।

Barwani

बड़ी बात ये है की महाराष्ट्र के प्रसिद्ध तोरणमाल तीर्थ क्षेत्र में बने नाथ संप्रदाय की गादी का महंत का पदभार भी इन्ही महंत के पास था। इसे में बड़ी संख्या में श्रद्धालु इन्हें मानते थे। आश्रम में नाथ संप्रदाय के संत व श्रद्धालु हर साल बड़ी संख्या में आते थे।