बड़वानी: नहीं थम रही रेमडेसीविर की कालाबजारी, पुलीस ने 2 को किया गिरफ्तार

2 में से एक आरोपी निजी अस्पताल का फार्मासिस्ट (pharmacist) है। पुलिस ने उनके पास से 25 हजार रुपये और रेमेडिसिवीर इंजेक्शन जब्त किये। कोतवाली पुलिस अब उनसे और पूछताछ कर रही है।

बड़वानी

बड़वानी, हेमन्त नागझिरिया। बड़वानी (barwani) में कोरोना की मार तेज होने के साथ ही रेमडेसीवीर इंजेक्शन (remdesivir injection) की कालाबाजारी भी बढ़ गई है। रेमडेसिवीर इंजेक्शन की कालाबाजारी (black marketing) करते हुए पुलिस (police) ने दो लोगों को पकड़ा। 2 में से एक आरोपी निजी अस्पताल का फार्मासिस्ट (pharmacist) है। पुलिस ने उनके पास से 25 हजार रुपये और रेमेडिसिवीर इंजेक्शन जब्त किये। कोतवाली पुलिस अब उनसे और पूछताछ कर रही है।

यह भी पढ़ें… पत्रकारों के हित में सीएम शिवराज का बड़ा फैसला, वीडी शर्मा ने किया निर्णय का स्वागत

बड़वानी क्षेत्र में व्याप्त कोविड महामारी के बीच रेमडेसिवीर इंजेक्शन की मांग लगातार बढ़ती जा रही है इसी बीच बढ़ती मांग के बीच इस इंजेक्शन की कालाबाजारी के मामले भी लगातार सामने आ रहे हैं। बड़वानी पुलिस पुलिस अधीक्षक निमिष अग्रवाल को मिली जानकारी के बाद बड़वानी में रेमडेसिवीर की कालाबजारी हो रही थी। इस मामले का पता लगाकर कार्रवाई करते हुए कोतवाली पुलिस ने राजपुर निवासी दो युवक राहुल बड़गुले और विनय रजक को पकड़ा है।

यह भी पढ़ें… पूर्व मंत्री का 86 वर्ष की उम्र में निधन, पार्टी में शोक की लहर

दोनों के पास से पुलिस को रेमडेसिवर इंजेक्शन के साथ ₹25000 भी मिले है। पकड़े गए आरोपियों में से एक युवक अपने आपको आशाग्राम रोड स्थित गुरुपद अस्पताल का फार्मिस्ट बता रहा है। फिलहाल पुलिस द्वारा पकड़े गए दोनों युवकों से पूछताछ की जा रही है और पुलिस द्वारा इनके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई की जा रही है।

Byte राजेश यादव (थाना प्रभारी बड़वानी)