बैतूल : प्रताड़ना से तंग आकर दो कैदियों ने पिया एसिड, दोनों का चल रहा इलाज

बैतूल में आज सुबह जिला जेल की 2 कैदियों ने एसिड पी लिया दोनों को गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है। कैदियों ने जेल में प्रताड़ना का आरोप लगाया है। वहीं जेल प्रबंधन ने प्रताड़ना के आरोपों को नकारा है।

two-prisoner-drank-acid-betul

बैतूल, वाजिद खान। बैतूल जिला जेल (Betul District Jail) में बुधवार की सुबह हत्या के आरोपी मंटू शंकर नाम के कैदी और बलात्कार के आरोपी बृजेश मालवी नाम के कैदी ने टॉयलेट क्लीनर एसिड पी (drank Toilet cleaner acid) लिया लिया, जिससे जिला जेल में हड़कंप (Stir) मच गया और इन दोनों को तत्काल जिला अस्पताल (District Hospital) में भर्ती कराया गया। इन दोनों कैदियों के खिलाफ जेल प्रबंधन एफआई आर दर्ज कराने की बात की है । इस घटना से जेल प्रबंधन की लापरवाही सामने आई है और कैदियों के साथ हो रहे बर्ताव की हकीकत सामने आ गई ।

बैतूल जिला अस्पताल में इन दोनों का इलाज चल रहा है। बताया जा रहा है कि इन दोनों कैदियों में बृजेश नाम के कैदी ने बताया कि जेल के अंदर कैदियों को परेशान किया जाता था। इससे तंग आकर उन्होंने यह कदम उठाया है । जेल प्रबंधन पर जेल परिसर में स्थापित दुर्गा प्रतिमा के चंदा के लिए कैदियों पर दबाव बनाने का भी आरोप लगा है ।

ये भी पढ़े- MP Transport : प्रदेश के 5082 वाहन चालकों के लाइसेंस निलंबित, यह है बड़ा कारण

हालांकि इन आरोपों को लेकर जेल अधीक्षक बीआर कुडापे ने प्रताड़ना के आरोप और चंदा लेने वाले आरोप को नकार दिया है । जेल अधीक्षक का कहना है कि इन कैदियों ने जो टॉयलेट क्लीनर एसिड पिया है उसमें एसिड की मात्रा कम होती है । फिलहाल दोनों कैदी की हालत ठीक है। सफाई कर्मी को टॉयलेट क्लीनर एसिड अंदर लाने की अनुमति होती है । इन दोनों कैदियों ने पी लिया था फिर भी पूरे मामले की जांच कराई जा रही है । इन दोनों कैदियों के खिलाफ मामला दर्ज कराया जा रहा है ।

जेल अधीक्षक बीआर कुडापे का कहना है कि विचाराधीन कैदी मंटू शंकर और बृजेश मालवी ने सफाई कर्मी के पास से टॉयलेट क्लीनर वाला एसिड पी लिया था, इसमें एसिड की मात्रा कम होती है दोनों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है दोनों की स्थिति फिलहाल ठीक है किसी भी तरह की प्रताड़ना नहीं होती और ना ही किसी कैदी से कोई चंदा मांगा जा रहा था देवी प्रतिमा की स्थापना जेल स्टाफ के द्वारा की गई है।

पूरे मामले पर जिला अस्पताल चिक्तिसक डॉ ओपी माहौर का कहना है कि जिला अस्पताल में 2 कैदियों को भर्ती किया गया है पता चला है कि इन दोनों ने फिनायल पिया था फिलहाल दोनों की स्थिति सामान्य है बेहोशी की हालत है अगर फिनाइल फेफड़ों में चला जाता है तो घातक हो सकता है इसके लिए उनकी जांच कराई जा रही है।

MP Breaking News prisoner drank acid in betul

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here