प्रभारी बाबू को नहीं थी PM आवास की जानकारी, भिंड कलेक्टर ने तत्काल प्रभाव से किया निलंबित

भिंड कलेक्टर ने शाखा प्रभारी को कहा कि प्रति शाखा प्रभारी 1 दिन में कम से कम 5 शिकायतों का निराकरण अवश्य करें।

निलंबित

भिंड, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) के निर्देश के बाद लगातार जिलों में कलेक्टर (collectors) द्वारा कार्यों की समीक्षा बैठक ली जा रही है। हर सप्ताह होने वाली इस बैठक में कार्य की प्रगति और अपूर्ण कार्य के निराकरण से संबंधित जानकारियां जिला कलेक्टर द्वारा ली जाती है। इसी बीच बीते दिनों भिंड में कलेक्टर सतीश कुमार एस (satish kumar s) ने नगर पालिका परिषद में कार्य की समीक्षा बैठक की। वही पीएम आवास (PM आवास) की जानकारी मांगी गई लेकिन प्रभारी बाबू कलेक्टर को सही जानकारी नहीं दे पाए। जिस पर सख्त कार्रवाई करते हुए बाबू को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।

दरअसल मामला भिंड जिले का नगर पालिका परिषद के कार्य की समीक्षा की गई। इस दौरान कलेक्टर सतीश कुमार एस पीएम आवास की जानकारी मांगी गई। जिस पर नगर निगम के प्रभारी बाबू स्वदेश तिवारी (swadesh tiwari) खड़े हुए लेकिन पीएम आवास के बारे में उन्हें जानकारी नहीं थी। इस बात पर कलेक्टर ने नाराजगी जाहिर की और कहा कि प्रभारी होकर भी स्वदेश तिवारी को पीएम आवास की जानकारी नहीं है। इसलिए इन्हें निलंबित किया जाए।

Read More: CORONA बीजेपी प्रवक्ता का ट्वीट, ‘चाहे केस लगे या डंडा चले, त्यौहार तो मनाएंगे’

वही समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश देते हुए भिंड कलेक्टर ने कहा कि शहर को अतिक्रमण मुक्त किया जाए। साथ ही कई जगह से रिश्वत मांगने की शिकायत सामने आ रही है। ऐसे लोगों की धरपकड़ आवश्यक है।वह नगर पालिका के स्वास्थ्य अधिकारी पर भी कलेक्टर ने नाराजगी जाहिर की। कलेक्टर के सवाल पर साफ सफाई से जुड़ी जानकारी स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा उपलब्ध नहीं कराई गई।

इतना ही नहीं कलेक्टर ने अधिकारियों को साफ साफ निर्देश दिए हैं कि साफ-सफाई के लिए प्रत्येक वार्ड में नोडल अधिकारी की नियुक्ति की जाए। इसके लिए कार्य योजना तैयार की जाए। वही कलेक्टर सतीश कुमार एस ने अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सीएम हेल्पलाइन (CM Helpline) में लंबित शिकायतों का समय पर निराकरण किया जाए। भिंड कलेक्टर ने शाखा प्रभारी को कहा कि प्रति शाखा प्रभारी 1 दिन में कम से कम 5 शिकायतों का निराकरण अवश्य करें।