बैठक में आपस में भिड़े BJP सांसद और कांग्रेस विधायक, बीच बचाव में उतरे प्रभारी मंत्री

भोपाल।

गुरुवार को भोपाल कलेक्ट्रेट में हुई जिला योजना समिति की मीटिंग में बीजेपी सांसद और कांग्रेस विधायक के बीच सोशल मीडिया पर हो रहे वायरल मैसेज को लेकर विवाद हो गया। बात इतनी बढ़ी की  हंगामा होने लगा। इसके बाद कमलनाथ के मंत्री ने बीच बचाव किया तब जाकर मामला शांत हुआ।वही किसानों का मुद्दा भी बैठक में जोर शोर से उठा।

दरअसल, बैठक जैसे ही शुरु हुई तो सांसद प्रज्ञा ठाकुर ने आरोप लगाया कि एक धर्म विशेष के लड़कों को सोशल मीडिया पर टारगेट किया जा रहा है। इस पर विधायक आरिफ मसूद ने जवाब देते हुए कहा कि आप अनावश्यक इस मामले को तूल दे रही हैं और दोनों के बीच जमकर विवाद की स्थिति बन गई। जिस पर कलेक्टर ने थाना प्रभारियों को कहा कि ऐसे लड़कों को थाने में बंद कर दो।  इधर, विधायक विश्वास सारंग ने सांसद का पक्ष लेते हुए कहा कि ऐसा हुआ तो अनर्थ हो जाएगा।इस पर विवाद और  बढ़ गया और प्रभारी मंत्री गोविंद सिंह को बीच बचाव करना पड़ा, तब जाकर मामला शांत हुआ।

इसके बाद बैठक में सांसद व भाजपा विधायकों ने किसानों का मुद्दा उठाया और कहा कि धान की फसल बर्बाद हो चुकी है। कांग्रेस सरकार इस पर कुछ नहीं कर रही है। ऋण माफी पर भी सरकार फेल होते हुए नजर आ रही है।जिस पर प्रभारी मंत्री डॉ. गोविंद सिंह  भड़क गए और उन्होंने कहा कि आप तो सांसद हैं पहले केंद्र से मदद लेकर आएं फिर इस संबंध में चर्चा करेंगे। उन्होंने कहा कि जो हो गया उसका ढोल पीटने से अच्छा है कि हम भविष्य को बेहतर बनाएं। इस पर भाजपा विधायकों ने दोबारा से फसल सर्वे करवाने की मांग की। जिस पर विचार किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here