नीमच आरटीओ बैरियर पर ट्रक ड्राइवर की पिटाई का मामला, वीडियो जारी कर मांगा न्याय, पुलिस पर लगाए आरोप

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। नीमच के नयागांव आरटीओ बैरियर पर ट्रक ड्राइवर की पिटाई का मामला ठंडा होने का नाम नहीं ले रहा है। अब इस मामले में ट्रक ड्राइवर राजू ने एक वीडियो जारी किया है जिसमें वह विकलांग की स्थिति में बिस्तर पर डला है और अपने लिए न्याय मांग रहा है।

कमलनाथ का संबोधन : नेहरू गांधी के कसीदे पढ़े, बीजेपी को जमकर कोसा

28 जुलाई को नीमच के नयागांव आरटीओ बैरियर पर चित्तौड़गढ़ के राजू नामक ट्रक ड्राइवर की तथाकथित पिटाई और उसके बाद पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। राजू फिलहाल अपने घर पर है और ऑपरेशन के बाद बिस्तर पर ही डला है लेकिन राजू की शिकायत के बावजूद अभी तक पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है। राजू ने इस पूरे मामले में आरटीओ प्रभारी अश्वनी खरे सहित नरेंद्र सिंह परिहार, संदीप बघेरवाल, राज नारायण जाट, बृज बिहारी उर्फ बंटू, अनिल खन्ना एवं 12 अन्य लोगों के खिलाफ नामजद शिकायत की है। उसने यह शिकायत मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री व पुलिस महानिदेशक को भेजी है और इसमें साफ कहा है कि तमाम शिकायतें करने के बावजूद नीमच पुलिस उसकी शिकायत पर कोई कार्यवाही नहीं कर रही है। राजू ने अपने वीडियो में यह भी कहा है कि वह इस समय विकलांग की जिंदगी जी रहा है और किसी भी काम करने की स्थिति में नहीं है। उसने आरटीओ प्रभारी अश्वनी खरे के उस बयान को हास्यास्पद बताया है जिसमें खरे ने कहा है कि राजू डर के भागा और उसका पैर टूट गया। राजू का कहना है कि जब उसके पास गाड़ी के संपूर्ण दस्तावेज मौजूद थे तो वह किस बात से डरता और भागता। अब देखना यह है कि राजू की इस शिकायत पर पुलिस महानिदेशक और मुख्यमंत्री क्या कार्रवाई करते हैं।

क्या है मामला
यह मामला बुधवार का है जब दोपहर 12 बजे के करीब राजू नामक ट्रक ड्राइवर अपने ट्रक क्रमांक RJ 09 GC 9089 को लेकर बैरियर से गुजरा। राजू बिलासपुर से कोयला भरकर भीलवाड़ा जा रहा था। दोपहर 12 बजे के करीब बैरियर से गुजरते वक्त ट्रक को रोका गया और एंट्री के नाम पर 2000 रू की मांग की गई। जब राजू के द्वारा यह कहा गया कि उसके पूरे कागज कंप्लीट है, बावजूद इसके कर्मचारियों द्वारा अवैध वसूली के लिए दबाव बनाया गया और रुपए देने से मना करने पर वहां आरटीओ बैरियर के निजी कर्मचारियों ने घेर कर उसे लाठियों और डंडों से मारा। राजू के पैर में गंभीर चोट आई, जिसकी शिकायत उसने नयागांव पुलिस चौकी में की। लेकिन बावजूद इसके पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। पीड़ित ने ज्ञापन देकर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने और बैरियर पर हो रही अवैध वसूली को रोके जाने की मांग की है।