अतिवर्षा से उत्पन्न स्तिथियों पर मुख्यमंत्री शिवराज की समीक्षा बैठक शुरू, अधिकारियों को दिए निर्देश

मुख्यमंत्री चौहान ने बारिश की स्थिति से जनजीवन के प्रभावित होने की जानकारी ली और कहा कि जान का नुकसान नही हो,यह प्रयास किये जायें। उन्होंने फील्ड के अधिकारियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि पूरे मनोयोग से काम करे।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्टेट हैंगर पर गृह मंत्री अमित शाह को विदा करने के बाद प्रदेश में अतिवर्षा से उतपन्न स्थिति की मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा प्रारम्भ की। बैठक में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और खजुराहो सांसद वीडी शर्मा, मंत्री विश्वास सारंग के साथ सीएस, डीजीपी, एडीजी ईंट आदर्श कटियार, भोपाल कलेक्टर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित है।

इस अवसर पर गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा,चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग,मुख्यसचिव श्री इकबाल सिंह बैंस,पुलिस महानिदेशक श्री सुधीर सक्सेना उपस्थित थे। उन्होंने विदिशा कलेक्टर से फोन पर जिले में राहत और बचाव कार्यो की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने भोपाल कलेक्टर को तत्काल बैरसिया में राहत और बचाव कार्य के लिए रवाना किया।

मुख्यसचिव ने उन्हें प्रदेश की स्थिति की जानकारी दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने भोपाल में विभिन्न डेम के गेट खोले रखने की स्थिति भी जानी। उन्होंने विदिशा में हेलीकाप्टर सुबह अतिशीघ्र उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने राजगढ़ के कलेक्टर हर्ष दीक्षित से भी जिले की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि पूरे मनोयोग से काम करे।उन्होंने फील्ड के अधिकारियों का मनोबल भी बढ़ाया।

मुख्यमंत्री चौहान ने सीहोर के कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर से भी बारिश की स्थिति से जनजीवन के प्रभावित होने की जानकारी ली।उन्होंने कहा कि जान का नुकसान नही हो,यह प्रयास किये जायें।

मुख्यमंत्री चौहान, सीएम हाउस में बनाए गए कंट्रोल रूम से अभी रात में प्रभावित जिला प्रशासन से बात कर स्थिति की समीक्षा करेंगे।