280 जिंदगियों को बचाने वाले कैलाश बोरकर होंगे राष्ट्रपति पदक से सम्मानित ..

भोपाल,डेस्क रिपोर्ट। अपनी जान जोख़िम में डालकर फ़र्ज निभाने वाले 55 वर्षीय होमगार्ड जवान कैलाश बोरकर को कल भोपाल में होने जा रहे स्वतंत्रता दिवस समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राष्ट्रपति पदक देकर सम्मानित करेगे। कैलाश बोरकर ने अपनी 22 साल की नौकरी में 280 लोगों को डूबने से बचाया है। बेहद अच्छे तैराक के रूप में उनकी पहचान है। और यही कारण है कि अच्छी तैराकी की वजह से उनकी ड्यूटी अक्सर ओंकारेश्वर में नर्मदा नदी के घाटों पर रहती है। यहां नर्मदा स्नान के समय डूबते लोगों को बचाने के लिए उन्होंने कई बार साहस दिखाया। उनके इसी साहसी कार्य को देखते हुए राष्ट्रपति पदक से सम्मानित किया जा रहा है। भोपाल में रविवार को होने जा रहे स्वतंत्रता दिवस समारोह में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान उन्हें सम्मानित करेंगे।

प्रधान आरक्षक ने फांसी लगाकर दी जान, थानें में मचा हड़कंप

कैलाश बोरकर ने ओंकारेश्वर में नर्मदा घाट पर कई जिंदगियो को बचाया है। अक्सर यहां दर्शन करनें या फिर घूमनें आने वाले लोग अति उत्साह के चलतें नर्मदा नदी के गहरे पानी में मनाही के बावजूद चले जाते है और फिर कई बार पैर फिसलने या तैरना न आने के कारण डूबने लगते है, ऐसी ही विकट परिस्थितियों में कैलाश उनकी जान बचाने गहरे पानी में भी कूद जाते है। और उन्हें बचा कर ले आते है। कैलाश बोरकर राष्ट्रपति पदक मिलने से उनके परिजनों के साथ ही विभाग में भी उत्साह का माहौल है। विभाग के अधिकारियों ने कैलाश बोरकर को बधाई देकर खुशी जताई है।