भोपाल, डेस्क रिपोर्ट

मध्य प्रदेश (madhya pradesh) के गृह मंत्री (home minister) डॉ नरोत्तम मिश्रा (dr.narottam mishra) ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि हर हाल में गरीब लोगों का पैसा चिटफंड कंपनियों से वापस दिलाने के लिए प्रभावी कार्रवाई करें। गृह विभाग (home department) की समीक्षा करते हुए पुलिस मुख्यालय (police headquarter) में नरोत्तम मिश्रा ने यह निर्देश दिए।

बैठक में बताया गया कि अब तक के प्रदेश भर में कुल डेढ़ सौ से ज्यादा शिकायतें प्राप्त हुई हैं जिनमें से कुछ का निराकरण कर लोगों को पैसा वापस दिलाएं भी गया है, लेकिन अभी भी बहुत संख्या में ऐसे लोग बाकी हैं जिनका पैसा चिटफंड कंपनियों के पास फंसा हुआ है। इसके अलावा डॉ नरोत्तम मिश्रा ने सभी जिला मुख्यालय पर महिला पुलिस थानों की आवश्यकता पर भी जोर दिया। इसके साथ ही कांस्टेबलों की आवास समस्या के निराकरण के लिए विशेष पहल करने की भी डॉक्टर नरोत्तम मिश्रा ने निर्देश दिए। इसके साथ हाउसिंग कॉरपोरेशन को कहा कि पुलिस विभाग के छोटे कर्मचारियों के लिए अधिकतम आवास का निर्माण किया जाए ताकि कोई भी बेघर न रह सके। बैठक में अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अनिल कुमार ने बताया कि इसके लिए प्रस्ताव शासन स्तर पर विचाराधीन है। मध्य प्रदेश के 10 जिलों में महिला थाने स्थापित हो चुके हैं लेकिन डॉक्टर मिश्रा ने निर्देश दिया कि महिलाओं से संबंधित अपराधों के लिए हर जिले में महिला थाना होना आवश्यक है।