भोपाल/इंदौर।
आज गणतंत्र दिवस के मौके पर इंदौर में मुख्यमंत्री में झण्डा वंदन करने से पहले कांग्रेस नेता चंदू कुंजीर और देवेंद्र यादव में जमकर मारपीट हुए।अब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वही वायरल वीडियो को शेयर कर बीजेपी जमकर चुटकी ले रही है। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने ट्वीट कर लिखा है कि जब मिल गयी इनको आज़ादी। बीजेपी विधायक रामेश्वर शर्मा ने लिखा है कि गणतंत्र दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में कांग्रेस के योद्धा। वही बीजेपी प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने इन्हें गांधीवादी कांग्रेस बताया है।

दरअसल, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ को आज गणतंत्र दिवस के अवसर पर इंदौर के कांग्रेस कार्यालय गांधी भवन में झंड़ा फरहाने पहुंचना था।सभी पुलिसकर्मी और अधिकारी उनकी तैयारियों में जुटे थे। लेकिन सीएम के इसके पहले ही कांग्रेस नेताओं के बीच हाथापाई हो गई।इससे पहले ही कोई कुछ समझ पाता सड़क पर ही दो कांग्रेस नेता देवेंद्र यादव और चंदू कुंजीर आपस में भिड़ गए, दोनों के बीच जमकर लात-घूंसे चले, यहां तक की दोनों ने एक दूसरे जो थप्पड़ मार दिए। यह देख वहां सीएम की सुरक्षा के लिए लगे पुलिस अधिकारी दौड़े और दोनों को अलग किया। इसके बाद सीएसपी डीके तिवारी ने चंदू कुंजीर को कार्यक्रम स्थल से बाहर कर दिया।हालांकि विवाद किस बात को लेकर हुआ अभी तक स्पष्ट नही हो पाया है। वही विवाद के कुछ देर बाद ही सीएम कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे और तिरंगा फहराया।

इस दौरान किसी ने दोनों नेताओं की मारपीट और हाथापाई का वीडियो बना लिया जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वही बीजेपी इस पर जमकर चुटकी ले रही है। प्रदेश के बीजेपी नेताओं द्वारा अपने ट्वीटर हैंडलर पर वीडियो शेयर किया जा रहा है और साथ में तंस कसे जा रहे है।