भाजपा ने दिए कार्यकर्ताओं को निर्देश, ना विजय जुलूस निकालें ना एक जगह इकठ्ठा हों

गौरतलब है कि पांच राज्यों के चुनावों के दौरान बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए मद्रास हाईकोर्ट ने पिछले दिनों चुनाव आयोग को फटकार लगाईं थी जिसके बाद चुनाव आयोग ने 2 मई को चुनाव परिणाम के बाद विजय जुलूस पर प्रतिबन्ध लगाने के आदेश दिए हैं।  

डिप्टी सीएम

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना संक्रमण (Corona Infection) को देखते हुए चुनाव आयोग (Election Commission) ने चुनाव परिणाम के बाद विजय जुलूस पर प्रतिबन्ध लगा दिया है। इसे देखते हुए भाजपा (BJP) ने भी अधिकृत पत्र जारी करते हुए अपने कार्यकर्ताओं को निर्देश दिए हैं कि चुनाव परिणामों के बाद विजय जुलूस नहीं निकाले जायेंगे और ना ही कार्यकर्ता एक जगह भीड़ की शक्ल में इकठ्ठा होंगे।  सभी को कोरोना प्रोटोकॉल (Corona Protocol)  का पालन करना आवश्यक है।

भाजपा के प्रदेश कार्यालय मंत्री डॉ राघवेंद्र ने सभी जिलों के जिला अध्यक्षों के नाम एक पत्र जारी किया है।  पत्र में कहा गया है कि भाजपा (BJP) के कार्यकर्ता कोरोना महामारी में प्रदेश के कोने कोने में सेवा ही संगठन अभियान -2 के तहत काम कर रहे हैं हम सबको विश्वास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के नेतृत्व में हम इस संकट पर विजय अवश्य प्राप्त करेंगे।

 ये भी पढ़ें – कलेक्टर का आदेश, जिले में 10 मई तक बढ़ा जनता कर्फ्यू, अस्थाई नाकों पर पुलिस ने दिखाई सख्ती 

पत्र डॉ राघवेंद्र ने आगे लिखा कि पांच राज्यों में संपन्न विधानसभा चुनाव और मध्यप्रदेश सहित कुछ अन्य राज्यों में संपन्न उप चुनाव और निकाय चुनावों के परिणाम 2 मई को आ जायेंगे। चूँकि भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने मध्यप्रदेश चुनाव आयोग (MP Election Commission) द्वारा परिणामों के बाद विजय जुलूस पर प्रतिबन्ध के फैसले का स्वागत किया है। इसलिए सभी इकाइयों जिले से मंडल स्तर तक को ये निर्देश दिए जाते हैं कि चुनाव परिणामों के बाद चुनाव आयोग के निर्देशों और कोरोना प्रोटोकॉल का अक्षरशः पालन हो।  कार्यकर्ता ना विजय जुलूस निकालेंगे और ना ही एक जगह इकठ्ठा होंगे।

भाजपा ने दिए कार्यकर्ताओं को निर्देश, ना विजय जुलूस निकालें ना एक जगह इकठ्ठा हों

गौरतलब है कि पांच राज्यों के चुनावों के दौरान बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए मद्रास हाईकोर्ट ने पिछले दिनों चुनाव आयोग को फटकार लगाईं थी जिसके बाद चुनाव आयोग ने 2 मई को चुनाव परिणाम के बाद विजय जुलूस पर प्रतिबन्ध लगाने के आदेश दिए हैं।