छतरपुर- धुबेला म्यूजियम में ड्यूटी पर तैनात आरक्षक ने खुद को मारी गोली, मौके पर हुई मौत, पुलिस जांच में जुटी

ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि आरक्षक ने राइफल को पैरों में फंसाया और फिर गर्दन में गोली मार ली जिससे उसकी मौत घटना स्थल पर ही हो गयी।

छतरपुर

छतरपुर, संजय अवस्थी। छतरपुर (chhatarpur) के नोगावँ थाना क्षेत्र के मऊसहानियां स्थित धुबेला संग्राहलय में उस वक्त अफरा तफरी मच गयी जब यहां ड्यूटी पर तैनात एक आरक्षक गार्ड ने अपनी सर्विस राइफल (service rifle) से खुद को गोली मारकर आत्महत्या (suicide) कर ली। घटना के कारण अभी अज्ञात हैं लेकिन जैसे ही इसकी सूचना पुलिस अधिकारियों (police officers) को लगी वे तत्काल मौके पर पहुंचे। वहीं छतरपुर से डॉग स्कॉड एवं एफएसएल टीम को भी बुलाया गया। मौके से साक्ष्यों को जुटाकर आत्महत्या के कारणों की जांच शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें… कांग्रेस सांसद राजीव सातव का कोरोना से निधन, राहुल गांधी ने बताई बड़ी क्षति

जानकारी के मुताबिक धुबेला संग्राहलय में छतरपुर पुलिस लाइन के आरक्षक मुकेश कुमार अहिरवार उम्र लगभग 29 साल, बैच नं 522, निवासी चतुरकारी चौकी मजना थाना बल्देवगढ़ जिला टीकमगढ़ ड्यूटी दे रहे थे। शनिवार की शाम करीब सवा चार बजे उसने अपनी सर्विस राईफल से खुद को गोली मार ली। ऐसे कयास लगाए जा रहे हैं कि आरक्षक ने राइफल को पैरों में फंसाया और फिर गर्दन में गोली मार ली जिससे उसकी मौत घटना स्थल पर ही हो गयी।

यह भी पढ़ें… ग्वालियर आने से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कलेक्टर एसपी को दिए ये निर्देश

उक्त घटना संग्रहायल में स्थित मस्तानी महल के सामने की है। सूचना मिलने के बाद एसडीओपी कमल कुमार जैन, नौगांव थाना पुलिस, लुगासी चौकी प्रभारी अतुल झा, छतरपुर से आरआई, एफएसएल टीम और डॉग स्क्वॉड मौके पर पहुंची जिसके बाद घटना की जांच शुरू कर दी गई है। कुछ चर्चायें ऐसी भी हैं कि रात को आरक्षक का किसी से विवाद हुआ था जो अभी जांच का विषय है। पुलिस हर पहलू पर जांच कर रही है।