छतरपुर में कोरोना कर्फ्यू को लेकर प्रशासन सख्त, कलेक्टर और एसपी उतरे सड़कों पर

छतरपुर में कोरोना कर्फ्यू को लेकर प्रशासन सख्त दिखाई दे रहा है, जिसके चलते कलेक्टर और एसपी सड़कों पर उतरे और बेवजह बहार घूमने वालों को सबक सिखाया।

छतरपुर, संजय अवस्थी। बढ़ते कोरोना संक्रमण (Corona infection) को लेकर छतरपुर (Chhatarpur) में भी 14 अप्रैल से 22 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू (Corona curfew) लगाया गया है। जिसको लेकर कलेक्टर (Collector) और एसपी (SP) सड़को पर उतरे और अनावश्यक घरों से बाहर निकलने वाले लोगों से पूछताछ की वही पुलिस ने लोगों पर डंडे बरसाए और मुर्गा भी बनाया गया।

यह भी पढ़ें….24 घंटे में मिले 10,166 पॉजिटिव, 53 की मौत, अफसरों के साथ बैठक करेंगे सीएम शिवराज

दरअसल कोरोना की चेन को तोड़ने के लिए छतरपुर में कोरोना कर्फ्यू लगाया गया है लेकर छतरपुर एसपी और कलेक्टर अब सख्त हो गए हैं,और खुद सड़कों पर उतर आए हैं, कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले लोगों पर सख्ती दिखाते हुए पुलिस द्वारा कहीं पर डंडे बरसाए गए हैं तो कहीं अनावश्यक घरों से बाहर निकलने वाले लोगों को मुर्गा बनाया गया है, दरअसल कोरोना संक्रमण को रोकने के उद्देश्य से जिले में 22 अप्रैल की सुबह 6 बजे तक छतरपुर जिले में कोरोना कर्फ्यू लागू हुआ है और इसी कर्फ्यू को प्रभावी रूप से लागू करने के लिए छतरपुर एसपी और कलेक्टर सड़कों पर उतर आए हैं,और अनावश्यक रूप से जो भी घूमता हुआ मिल रहा है उनके द्वारा पुलिस से डंडे बरसाए जा रहे हैं और कि साथ ही कई लोगों को मुर्गा भी बनाया गया है,इस दौरान एसपी सचिन शर्मा भी लाठी थामे हुए नजर आए हैं और कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले एक युवक पर लाठी बरसाते हुए दिखाई दे रहे हैं, कलेक्टर और एसपी का कहना है कि लोग कोरोना कर्फ्यू का पालन करें, घरों पर रहें नहीं तो अनावश्यक रूप से घरों से बाहर निकलने वालों के खिलाफ सख्ती बरती जाएगी।

यह भी पढ़ें….ग्वालियर पहुंचे रेमडेसिविर इंजेक्शन के 19 बॉक्स, अलग अलग जिलों में भेजे जायेंगे